विश्व
पुष्टि - 19,834,735
मृत्यु - 730,210
ठीक- 12,741,325
भारत
पुष्टि - 2,158,408
मृत्यु - 43,518
ठीक- 1,483,197
रूस
पुष्टि - 887,536
मृत्यु - 14,931
ठीक- 693,422
दक्षिण अफ्रीका
पुष्टि - 553,188
मृत्यु - 10,210
ठीक- 404,568
ब्राज़िल
पुष्टि - 3,013,369
मृत्यु - 100,543
ठीक- 2,094,293
अमेरिका
पुष्टि - 5,150,060
मृत्यु - 165,074
ठीक- 2,638,673

भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में छत्तीसगढ़ पवेलियन का मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया उद्घाटन, स्टॉलों का किया अवलोकन ली जानकारी

रायपुर। नई दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित हो रहे 39वां भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले (आईआईटीएफ) में छत्तीसगढ़ पवेलियन का मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज उद्घाटन किया। 14 से 27 नवंबर तक चलने वाले इस मेले में छत्तीसगढ़ के विभिन्न विभागों के स्टॉल लगाए गए हैं। मेले में शिरकत कर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने स्टॉलों का अवलोकन कर जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के कारीगरों की प्रशंसा करते हुए विजिटर बुक में भी उल्लेख किया है। उन्होंने शुभकामनाएं देते हुए लिखा है कि छत्तीसगढ़ के स्टॉल में हमारे मेहनतकश कारीगरों के उत्कृष्ट कार्य दिखाई देता है। उनके द्वारा निर्मित सामान विश्वस्तरीय है।

इस मौके पर कृषि मंत्री रविंद्र चौबे और खाद्य मंत्री अमरजीत भगत, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, सी.एस.आई.डी.सी. के प्रबंध संचालक पी. अरूण प्रसाद भी उपस्थित रहे। अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले के हॉल नम्बर 12-। छत्तीसगढ़ का पवेलियन है, जो कि पहले ही दिन यहाँ आने वाले आगंतुकों के आकर्षण का केंद्र रहा। भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में छत्तीसगढ़ का पवेलियन इस वर्ष की थीम ‘ईज ऑफ डूइंग’ बिजनेस के अनुरूप तैयार किया गया है।

व्यापार मेला में बड़ी संख्या में प्रदेश के दस्तकार, शिल्पकार, कारीगर भाग ले रहे हैं। छत्तीसगढ़ का हस्तशिल्प और हैंडलूम उत्पाद व्यापार मेले में बिक्री के लिए उपलब्ध है।

जिसमें बेलमेटल, ढोकरा शिल्प, कोसा सिल्क साड़ियों के स्टॉल पर भीड़ जुट रही है। यहाँ प्राकृतिक रंगों से तैयार ड्रेस मटेरियल, बेडशीट, ग्राम उद्योग के हर्बल उत्पाद की खरीदारी की जा रही है।

व्यापार मेले में इस बार 20 से अधिक देश भाग ले रहे हैं। वहीं 800 से अधिक कंपनियां और संस्थाएं आई हैं। आम लोगों के लिए 19 नवंबर से खुलेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.