विश्व
पुष्टि - 5,590,358
मृत्यु - 347,907
ठीक- 464,670
भारत
पुष्टि - 145,456
मृत्यु - 4,172
ठीक- 60,706
जर्मनी
पुष्टि - 180,789
मृत्यु - 8,428
ठीक- 161,200
स्पेन
पुष्टि - 282,480
मृत्यु - 26,837
ठीक- 196,958
ईरान
पुष्टि - 137,724
मृत्यु - 7,451
ठीक- 107,713
अमेरिका
पुष्टि - 1,706,226
मृत्यु - 99,805
ठीक- 464,670

राष्ट्रीय राजधानी “दिल्ली” में अगर बीजेपी सत्ता में आई तो उपभोक्ताओं को देंगे 5 गुना ज्यादा राहत : मनोज तिवारी

नई दिल्ली। बीजेपी दिल्ली इकाई के प्रमुख मनोज तिवारी ने सोमवार को कहा कि उनकी पार्टी अगर राष्ट्रीय राजधानी में सत्ता में आती है तो वह पानी और बिजली उपभोक्ताओं को आप सरकार के मुकाबले पांच गुना ज्यादा राहत देगी। उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उनके इलाज के खर्च के बारे में सवाल किया और कहा कि उन्होंने अपना इलाज मोहल्ला क्लीनिक में क्यों नहीं करवाया? तिवारी ने बताया कि भाजपा की ओर से दायर किए गए एक RTI आवेदन के अनुसार 2015 में दिल्ली में सत्ता में आने के बाद केजरीवाल ने निजी अस्पतालों में अपने इलाज पर 12,18,027 रुपये खर्च किए। इस खर्च का भुगतान दिल्ली सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा किया गया है। उन्होंने दावा किया कि उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अपने और अपने परिवार के इलाज पर 13,25,329 रुपये, गोपाल राय और इमरान हुसैन ने क्रमश: 7,22,558 रुपये और 2,46,748 रुपये खर्च किए हैं।

श्री तिवारी ने संवाददाताओं से बताया, ‘‘ केजरीवाल क्यों नहीं दिल्ली सरकार के अस्पतालों और मोहल्ला क्लीनिक में उपलब्ध सुविधाओं की वास्तविक सूचना मुहैया कराते हैं, जिसके बारे में बताने के लिए वह विज्ञापनों पर धन खर्च कर रहे हैं।’’ तिवारी ने कहा, ‘‘ अगर आप अपनी सरकार की चिकित्सा सेवा पर विश्वास नहीं करते हैं तो आप लोगों को उन्हीं के रहमोकरम पर क्यों छोड़ रहे हैं? यह स्पष्ट तौर पर दिखाता है कि आप सरकार पूरी तरह से विफल है।’’उन्होंने कहा कि RTI जानकारी से साबित होता है कि अगर मोहल्ला क्लीनिक और दिल्ली सरकार के अस्पतालों में सुविधा विश्वास के काबिल होती तो उनके मंत्री और उनके परिवार के लोग निजी अस्पतालों में इलाज के लिए नहीं जाते।

भाजपा श्री तिवारी नेता ने कहा, ‘‘ दिल्ली की जनता कभी उनके स्वास्थ्य के साथ खेलने के लिए मुख्यमंत्री को माफ नहीं करेगी।’’ इस पर अभी आम आदमी पार्टी की तत्काल कोई टिप्पणी नहीं आई है। तिवारी से जब पूछा गया कि क्या उनकी पार्टी पानी और बिजली पर उपभोक्ताओं को सब्सिडी देने के पक्ष में है तो उन्होंने कहा, ‘‘ भाजपा सब्सिडी के खिलाफ नहीं है। वास्तव में अगर हम सत्ता में आते हैं तो हम पानी और बिजली उपभोक्ताओं को पांच गुना ज्यादा राहत देंगे।’’ वहीं एक अखबार को दिए गए साक्षात्कार में भाजपा नेता विजय गोयल ने कहा था कि भाजपा सब्सिडी नहीं देगी लेकिन ऐसा माहौल बनाएगी कि बिजली और भी सस्ती हो जाएगी। केजरीवाल ने रविवार को भाजपा पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह भाजपा का शुक्रिया अदा करते हैं क्योंकि उनकी सरकार द्वारा बिजली पर दी जा रही छूट को सत्ता में आने पर खत्म करने का इरादा उन्होंने जाहिर कर दिया। इससे दिल्ली के लोगों को दो मॉडलों में से एक को चुनने का मौका मिलेगा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.