विश्व
पुष्टि - 133,698,363
मृत्यु - 2,901,130
ठीक- 107,828,758
भारत
पुष्टि - 12,928,574
मृत्यु - 166,892
ठीक- 11,851,393
रूस
पुष्टि - 4,606,162
मृत्यु - 101,480
ठीक- 4,229,480
फ्रांस
पुष्टि - 4,841,308
मृत्यु - 97,722
ठीक- 301,299
ब्राज़िल
पुष्टि - 13,197,031
मृत्यु - 341,097
ठीक- 11,664,158
अमेरिका
पुष्टि - 31,637,243
मृत्यु - 572,849
ठीक- 24,206,539

होलिका दहन 2021: इस साल कब होगा होलिका दहन, जाने तिथि और शुभ मुहूर्त, होलाष्टक में रुक जाते हैं शुभ कार्य

धर्म डेस्क। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, फाल्गुन महीने की पूर्णिमा तिथि के दिन होलिकादहन किया जाता है। इसके अगले दिन रंगों का त्योहार होली पूरे देश भर में मनाया जाता है। होली का पर्व भारत के खास उत्सवों में से एक है। जितना महत्व होली का है, उतनी ही अहमियत होलिका दहन की भी है। इस दिन के साथ पौराणिक भक्त प्रह्लाद और उनके पिता हिरण्यकश्यप की कथा भी जुड़ी हुई है। जानते हैं साल 2021 में होलिका दहन किस दिन किया जाएगा और इसका शुभ मुहूर्त क्या होगा।

होलिका दहन शुभ मुहूर्त- शाम 6 बजकर 36 मिनट से रात 8 बजकर 56 मिनट तक

होली से आठ दिन पहले होलाष्टक लग जाता है। इस दौरान शादी विवाह जैसे मांगलिक कार्य नहीं किये जाते हैं। इस साल होलाष्टक 21 मार्च से आरंभ होगा और 28 मार्च को होलिका दहन पर इसका समापन होगा।

होलिका दहन के काफी समय पहले से ही इसकी तैयारी शुरू हो जाती है। इसके लिए एक जगह पर सूखा पेड़ रख दिया जाता है। इस पर लकड़ियां, घास-फुस, पुआल और गोबर के उपले रखे जाते हैं। फिर होलिका दहन वाले दिन इसका दहन किया जाता है। इस दिन घर का कोई भी बड़ा सदस्य इसे अग्नि देता है। होलिका दहन को छोटी होली भी कहा जाता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.