विश्व
पुष्टि - 133,698,363
मृत्यु - 2,901,130
ठीक- 107,828,758
भारत
पुष्टि - 12,928,574
मृत्यु - 166,892
ठीक- 11,851,393
रूस
पुष्टि - 4,606,162
मृत्यु - 101,480
ठीक- 4,229,480
फ्रांस
पुष्टि - 4,841,308
मृत्यु - 97,722
ठीक- 301,299
ब्राज़िल
पुष्टि - 13,197,031
मृत्यु - 341,097
ठीक- 11,664,158
अमेरिका
पुष्टि - 31,637,243
मृत्यु - 572,849
ठीक- 24,206,539

इलेक्ट्रिक स्कूटर चलाते हुए गिरने से बाल-बाल बचीं ममता बनर्जी, सुरक्षाकर्मियों ने गिरने से इस तरह बचाया

नई दिल्ली। डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के विरोध में इलेक्ट्रीक स्कूटर की सवारी करने पहुंची पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बाल-बाल गईं। दरअसल, डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के विरोध में ममता बनर्जी हावड़ा में एक मार्च में शामिल हुईं थी। इस दौरान उन्होंने इलेक्ट्रीक स्कूटर की भी सवारी की। जैसे ही उन्होंने स्कूटर को चलाने का प्रयास की वह डगमगा गईं और गिरते-गिरते बचीं।

उनके आस-पास तैनात सुरक्षा कर्मी और नेताओं ने समय रहते उनको गिरने से बचा लिया। इस दौरान उनका मोबाइल फोन भी सड़क पर गिर गया। इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में आप देख सकते हैं कि किस तरह से ममता बनर्जी गिरने से बाल-बाल बच गईं। यह हादसा उस समय हुआ जब ममता बनर्जी इलेक्ट्रिक स्कूटर चलाकर राज्य सचिवालय नबान्न जा रहीं थीं।

ज्ञात हो कि पश्चिम बंगाल में इस साल मार्च से मई के बीच में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में ममता बनर्जी केंद्र सरकार को घेरने के लिए कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहती हैं। देश में पेट्रोल और डीजल के दाम भी आसमान छू रहे हैं। अलग-अलग राज्यों में विरोध प्रदर्शन देखने को मिले हैं।

स्कूटर पर सवार ममता बनर्जी ने गले में तख्ती टांग रखी थी, जिसपर ईंधन के दाम में वृद्धि के खिलाफ नारे लिखे थे, उन्होंने हेलमेट पहन रखा था और हाजरा मोड़ से राज्य सचिवालय के बीच सात किलोमीटर का सफर स्कूटर पर तय करते हुए सड़क के दोनों ओर लोगों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया।

करीब 45 मिनट के सफर के बाद ‘नबान्न पहुंची ममता बनर्जी ने भाजपा नीत केंद्र सरकार की आलेचना करते हुए कहा, हम ईंधन की कीमतों में वृद्धि का विरोध कर रहे हैं। मोदी सरकार केवल झूठे वादे करती है। उन्होंने (केंद्र) ईंधन की कीमत को कम करने के लिए कुछ नहीं किया। आप मोदी सरकार के सत्ता में आने और अब के पेट्रोल की कीमतों में अंतर को देख सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.