विश्व
पुष्टि - 115,302,022
मृत्यु - 2,560,638
ठीक- 91,127,337
भारत
पुष्टि - 11,139,516
मृत्यु - 157,385
ठीक- 10,812,044
रूस
पुष्टि - 4,268,215
मृत्यु - 86,896
ठीक- 3,838,040
फ्रांस
पुष्टि - 3,783,528
मृत्यु - 87,220
ठीक- 259,893
ब्राज़िल
पुष्टि - 10,647,845
मृत्यु - 257,562
ठीक- 9,527,173
अमेरिका
पुष्टि - 29,370,705
मृत्यु - 529,214
ठीक- 19,905,322

उत्तर प्रदेश की नयी सम्भावनाओं को उड़ान देगा यह बजट, बनेगी $1 ट्रिलियन इकॉनमी : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिये सोमवार को पेश बजट को लोक कल्याणकारी, विकासोन्मुखी और सर्वसमाज के विकास को समर्पित बताते हुए कहा कि यह समाज के सर्वांगीण विकास में मील का पत्थर साबित होगा। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना द्वारा बजट पेश किये जाने के बाद मुख्यमंत्री योगी ने संवाददाताओं से बातचीत में प्रदेश के पहले पेपरलेस बजट के लिये वित्त मंत्री और उनकी पूरी टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी के बीच देश के सबसे बड़े राज्य के लिए यह बजट नई आशा, नई ऊर्जा और उत्तर प्रदेश की नई संभावनाओं को उड़ान देने का वाला है। इस बजट में हर हाथ को काम देने का संकल्प निहित है। यह प्रदेश के गांव, गरीब किसानों, नौजवानों, महिलाओं और समाज के प्रत्येक तबके का प्रतिनिधित्व करने वाला बजट है।

योगी ने कहा कि सरकार ने कोविड-19 महामारी के बावजूद प्रदेश के वित्तीय अनुशासन को बनाए रखते हुए लोक कल्याण की भावना के तहत समाज के हर वर्ग को इसमें शामिल कर महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। उन्होंने कहा कि इस बार का यह बजट समग्र और समावेशी विकास तथा प्रदेश के विभिन्न वर्गों के स्वावलंबन के माध्यम से सशक्तिकरण को आधार बनाकर प्रस्तुत किया गया है। प्रदेश में ईज ऑफ लिविंग को और आसान बनाने के लिए हर घर को जल, हर घर को बिजली, हर गांव को सड़क और हर गांव को डिजिटल बनाने की प्रक्रिया के साथ प्रदेश में समग्र विकास की रूपरेखा इस बजट के माध्यम से प्रारंभ की गई है। उन्होंने कहा कि बजट में मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना को विस्तार दिया गया है। इसमें अब किसान के साथ-साथ उसके परिवार के कमाऊ सदस्य, बटाईदार और अन्य लोगों को भी शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि जो किसान परिवार आयुष्मान भारत योजना’ के तहत स्वास्थ्य बीमा से कवर नहीं हुए हैं, उन्हें मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत पांच लाख रुपये के नि:शुल्क स्वास्थ्य बीमा का भी प्रावधान इस बार इस बजट में किया गया है। उन्होंने बताया कि अयोध्या में हवाई अड्डे का निर्माण कराया जा रहा है।

इसके अलावा प्रदेश के अलीगढ़, मुरादाबाद, मेरठ समेत अनेक जिले भी विमान सेवा से जुड़ेंगे। योगी ने बताया कि महिलाओं के लिए मुख्यमंत्री सुमंगला योजना को व्यापक आयाम मिला है और इस साल नयी योजना मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना लाई जा रही है। इसके तहत छह महीने से लेकर पांच साल तक के किसी भी कुपोषित बच्चे को पोषित करने के लिए या खून की कमी से जूझ रही 11 से 14 साल की बच्चियों के लिए भी बजट में प्रावधान किया गया है। बजट पर उपमुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने कहा है कि राज्य सरकार का बजट प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को पूरा करने की दिशा में अहम कदम साबित होगा। उन्होंने कहा कि इस बजट के जरिए प्रदेश के समग्र विकास का खाका खींचा गया है। सर्वसमावेशी बजट के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार जताते हुए शर्मा ने कहा कि नए भारत का नया उत्तर प्रदेश देश को राह दिखाने के लिए तैयार है। किसान, युवा, महिला, गांव, गरीब और किसान के साथ हर वर्ग के कल्याण और स्वस्थ उत्तर प्रदेश और ढांचागत विकास बजट का केन्द्र बिन्दु है। दूसरे उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, मुख्यमंत्री योगी के नेतृत्व वाली प्रदेश की भाजपा सरकार के शानदार बजट का विरोध करना विपक्ष के लिये मुश्किल है। यह बजट सर्वस्पर्शी, सर्वव्यापी, सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास का प्रतीक है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.