विकसित और खुशहाल बीजापुर का सपना जल्द होगा साकार : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बीजापुर के मिनी स्टेडियम में आयोजित विशाल पंच-सरपंच एवं किसान सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि विकसित और खुशहाल बीजापुर जिले का सपना जल्द साकार होगा। बस्तर के इस दूरस्थ जिले में विकास की असीम संभावनाएं हैं, इस जिले के समग्र विकास के लिये राज्य सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है। जिले के अंदरूनी इलाके में 16 नयी सड़कें बनायी गयी है। अभी 69 करोड़ 65 लाख रुपये लागत की 60 नई सड़कों का निर्माण करेंगे और 71 करोड़ 75 लाख रुपये के 6 बड़े पुल बनायेंगे। यही नहीं जिले के सभी क्षेत्रों में विकास के कार्यों को तेजी के साथ सुनिश्चित किया जाएगा और यहां के लोगों को विकास से जोड़ने के लिये विशेष पहल की जाएगी।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस अवसर पर 291 करोड़ रुपये लागत के 142 निर्माण और विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। जिला खनिज न्यास निधि के तहत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र उसूर तथा गंगालूर के लिए दो नयी एम्बुलेंस को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों के आग्रह पर 21 करोड़ 36 लाख रुपये लागत के 19 नवीन निर्माण एवं विकास कार्यों की मंजूरी दी। उन्होंने एरमनार से तोयनार तक 10 किलोमीटर डामरीकृत सड़क निर्माण के लिए 6 करोड़ रुपये, कोंगूपल्ली से संकनपल्ली तक 15 किलोमीटर डामरीकृत सड़क निर्माण हेतु एक करोड़ रुपये,पोटामपारा से रेड्डी तक डामरीकृत सड़क निर्माण के लिए 3 करोड़ रुपये, बीजापुर महादेव तालाब गहरीकरण एवं सौंदर्यीकरण के लिए डेढ़ करोड़ रुपये, सभी 4 ब्लॉकों के प्रमुख तालाबों के गहरीकरण हेतु 5 करोड़ रुपये सहित 10 करोड़ 50 लाख रुपये लागत के 14 अन्य निर्माण एवं विकास कार्यों की मंजूरी दी।

राज्य सरकार ने किसानों, गरीबों सहित समाज के सभी वर्गों के हितों के लिए अनेक योजनाएं प्रारंभ की है। इन योजनाओं से प्रदेश में विकास का अच्छा वातावरण बना है। उन्होंने कहा कि किसानों की कर्जमाफी, किसानों से 2500 रुपये मूल्य पर धान खरीदी, 4 हजार रुपये प्रति मानक बोरा की दर से तेंदूपत्ता की खरीदी, सार्वभौम सार्वजनिक वितरण प्रणाली, सिंचाई कर माफी इत्यादि ऐसी योजनाएं लागू किये हैं, जिससे गांव, गरीब और किसान सभी लाभान्वित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस वर्ष भी किसानों से 2500 रुपये प्रति क्विंटल पर धान की खरीदी करेगी। केन्द्र सरकार छत्तीसगढ़ का चावल ले या ना ले राज्य सरकार किसानों से किया अपना वायदा निभाएगी।

इस मौके पर उद्योग मंत्री कवासी लखमा, सांसद बस्तर दीपक बैज, विधायक बीजापुर एवं उपाध्यक्ष बस्तर विकास प्राधिकरण विक्रम मंडावी ने भी सम्मेलन को सम्बोधित किया। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में 50 हितग्राहियों को राजीव गांधी आश्रय योजना के अंतर्गत अधिकार पत्र, दो स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं एवं 5 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया। वहीं अंदरूनी इलाके में सेवायें देने वाली 4 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं तथा एक मितानिन सहित अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में परचम लहराने वाले स्पोर्ट्स अकादमी बीजापुर के 5 खिलाड़ी छात्र-छात्राओं को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। श्री बघेल ने 5 किसानों को नलकूप स्थापना के लिए चौरासी-चौरासी हजार रुपये सहायता राशि के चेक प्रदान किया गया। वहीं श्रम विभाग की योजना के तहत दो हितग्राहियों को 35 हजार रुपये की सहायता राशि तथा वन्य प्राणी से घायल होने वाले 3 हितग्राहियों को एक लाख 60 हजार रुपये आर्थिक सहायता राशि का चेक प्रदान किया गया।

इस अवसर पर प्रदेश के राजस्व मंत्री एवं प्रभारी मंत्री बीजापुर जयसिंह अग्रवाल, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम, विधायक कोंडागांव मोहन मरकाम, विधायक दन्तेवाड़ा देवती महेन्द्र कर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष बीजापुर जमुना सकनी सहित क्षेत्र के अनेक जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

Please follow and like us:
Twitter20
Facebook0
Follow by Email

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!