विश्व
पुष्टि - 115,302,022
मृत्यु - 2,560,638
ठीक- 91,127,337
भारत
पुष्टि - 11,139,516
मृत्यु - 157,385
ठीक- 10,812,044
रूस
पुष्टि - 4,268,215
मृत्यु - 86,896
ठीक- 3,838,040
फ्रांस
पुष्टि - 3,783,528
मृत्यु - 87,220
ठीक- 259,893
ब्राज़िल
पुष्टि - 10,647,845
मृत्यु - 257,562
ठीक- 9,527,173
अमेरिका
पुष्टि - 29,370,705
मृत्यु - 529,214
ठीक- 19,905,322

कोरोना के खिलाफ जंग में नया कीर्तिमान: भारत को 1 करोड़ टीकाकरण का आंकड़ा हासिल करने में लगे 34 दिन

नई दिल्ली। स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि भारत को एक करोड़ कोविड-19 टीकाकरण की ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल करने में 34 दिन लगे जो कि दुनिया में दूसरी सबसे तेज गति है। अमेरिका को इसमें 31 दिन लगे, जबकि ब्रिटेन को एक करोड़ टीकाकरण आंकड़े को पार करने में 56 दिन लगे। शुक्रवार सुबह 8 बजे तक, देश में स्वास्थ्य कर्मियों और कोविड-19 के खिलाफ अग्रिम मोर्चे पर लगे कर्मियों (एफएलडब्ल्यू) को दिये गए कोविड-19 टीके की खुराक की कुल संख्या 1,01,88,007 थी। मंत्रालय ने कहा, ‘‘सुबह आठ बजे तक की अंतरिम रिपोर्ट के अनुसार 2,11,462 सत्रों के माध्यम से टीके की कुल 1,01,88,007खुराक दी गई हैं। इनमें 62,60,242 स्वास्थ्य कर्मी (पहली खुराक), 6,10,899 स्वास्थ्यकर्मी (दूसरी खुराक) और कोविड-19 के खिलाफ अग्रिम मोर्चे पर लगे 33,16,866कर्मी (पहली खुराक) शामिल हैं।’’ कोविड-19 टीकाकरण की दूसरी खुराक 13 फरवरी से उन लोगों को दी जाने लगी हैं जिन्होंने पहली खुराक प्राप्त करने के 28 दिन पूरे कर लिए हैं। कोविड-19 के खिलाफ अग्रिम मोर्चे पर लगे कर्मियों का टीकाकरण 2 फरवरी से शुरू हुआ था।

टीकाकरण अभियान के 34वें दिन (18 फरवरी)को, कुल 6,58,674 टीके की खुराक दी गई जिसमें से 4,16,942 लाभार्थियों को 10,812 सत्रों में पहली खुराक स्वास्थ्यकर्मियों और एफएलडब्ल्यू को दी गई जबकि 2,41,732 स्वास्थ्य कर्मियों को दूसरी खुराक दी गई। उसने कहा कि देश में दिन-प्रतिदिन टीकाकरण की संख्या में प्रगतिशील वृद्धि देखी जा रही है। देश में दिये गए टीकों की खुराक का 57.47 प्रतिशत आठ राज्यों में दिये गए। अकेले उत्तर प्रदेश में 10.5 प्रतिशत (10,70,895) टीके दिये गए हैं। सात राज्यों में टीके की दूसरी खुराक का 60.85 प्रतिशत हिस्सा है। देश में दी गई दूसरी खुराक का 12 प्रतिशत (73,281) हिस्सा तेलंगाना में है। सोलह राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने 24 घंटे में किसी भी कोविड​​-19 की मौत की सूचना नहीं दी है। ये गुजरात, हिमाचल प्रदेश, गोवा, झारखंड, मेघालय, पुड्डुचेरी, चंडीगढ़, मणिपुर, मिज़ोरम, लक्षद्वीप, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, लद्दाख, त्रिपुरा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और दमन एवं दीव और दादरा एवं नागर हवेली। 15 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में एक से पांच के बीच मरीजों की मौत की सूचना है जबकि तीन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में यह संख्या छह से 10 के बीच है।

भारत में उपचाराधीन कोविड-19 मामलों की संख्या वर्तमान में 1,39,542 है, जो कि कुल संख्या का केवल 1.27 प्रतिशत है। 24 घंटे की अवधि में 10,896 और मरीजों के ठीक होने से इस बीमारी से ठीक होने वाले रोगियों की संख्या बढ़कर 1.06 करोड़ से अधिक (1,06,67,741) हो गई है। मंत्रालय ने कहा कि ठीक हुए मरीजों में से 83.15 फीसदी मरीज छह राज्यों में ठीक हुए हैं। केरल में एक दिन में सबसे अधिक 5,193 मरीज ठीक हुए जबकि इसके बाद महाराष्ट्र (2,543) और तमिलनाडु (470) हैं। मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 13,193 नये मामले 24 घंटे में दर्ज किए गए। मंत्रालय ने कहा कि इनमें से 86.6 फीसदी मामले छह राज्यों से सामने आए। महाराष्ट्र में सबसे अधिक 5,427 मामले सामने आये, उसके बाद केरल (4,584) और तमिलनाडु (457) हैं। मंत्रालय ने कहा कि कोविड​​-19 के कारण 24 घंटे में 97 मौतें हुई हैं जिसमें से 76.29 प्रतिशत मौतें पांच राज्यों में हुई हैं। महाराष्ट्र ने सबसे अधिक 38 मौतें हुई, उसके बाद केरल (14) और पंजाब (10) का नम्बर है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.