विश्व
पुष्टि - 18,701,672
मृत्यु - 704,365
ठीक- 11,915,331
भारत
पुष्टि - 1,906,613
मृत्यु - 39,820
ठीक- 1,281,660
रूस
पुष्टि - 861,423
मृत्यु - 14,351
ठीक- 661,471
दक्षिण अफ्रीका
पुष्टि - 521,318
मृत्यु - 8,884
ठीक- 363,751
ब्राज़िल
पुष्टि - 2,808,076
मृत्यु - 96,096
ठीक- 1,970,767
अमेरिका
पुष्टि - 4,918,420
मृत्यु - 160,290
ठीक- 2,481,680

कोविड-19 : प्रधानमंत्री मोदी ने किया 3 आधुनिक कोरोना लैब्स का उद्घाटन, प्रति दिन होगी 10,000 टेस्टिंग

न्यूज़ डेस्क। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए नोएडा, कोलकाता और मुंबई स्थित कोरोना जांच के लिए अत्याधुनिक लैब्स का उद्घाटन किया। इन सेंटर्स में प्रति दिन 10 हजार सैंपल टेस्ट किए जाएंगे। PM मोदी ने कहा कि जनवरी में हमारे पास कोरोना के टेस्ट के लिए जहां मात्र एक सेंटर था, आज करीब 1300 लैब्स पूरे देश में काम कर रही हैं। आज भारत में 5 लाख से ज्यादा टेस्ट हर रोज हो रहे हैं। आने वाले हफ्तों में इसको 10 लाख प्रतिदिन करने की कोशिश हो रही है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा PPE किट मैन्युफैक्चरर है। सिर्फ 6 महीने पहले देश में एक भी मैन्युफैक्चरर नहीं था,आज 1200 से ज्यादा मैन्युफैक्चरर हर रोज 5 लाख से ज्यादा PPE किट बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक समय N-95 मास्क भी बाहर से आते थे, आज देश में रोज 3 लाख मास्क बन रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने कहा कि आइसोलेशन सेंटर हों, कोविड स्पेशल हॉस्पिटल हो, टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रैकिंग से जुड़ा नेटवर्क हो, भारत ने बहुत ही तेज़ गति से अपनी क्षमताओं का विस्तार किया। आज भारत में 11 हजार से ज्यादा कोविड फैसिलिटी हैं, 11 लाख से ज्यादा आइसोलेशन बेड्स हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ इस बड़ी और लंबी लड़ाई के लिए सबसे महत्वपूर्ण था कि देश में तेजी के साथ Corona Specific Health Infrastructure का निर्माण हो। इसी वजह से बहुत शुरुआत में ही केंद्र सरकार ने 15 हजार करोड़ रुपए के पैकेज का ऐलान कर दिया था।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस संकट के दौरान एक और बड़ा चैलेंज था कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए ह्यूम रिसोर्स तैयार करना। आज अगर भारत की कोरोना से लड़ाई को देखकर दुनिया अचंभित है, तो उसका एक बड़ा कारण हमारे ये सोल्जर्स भी हैं। आज हमारे पास जागरुकता की कमी नहीं, साइंटिफिक डेटा का विस्तार हो रहा है। अब हमें राज्य, जिला, ब्लॉक और गांव के स्तर पर डिमांड-सप्लाई को और दुरुस्त करना है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आने वाले समय में बहुत सारे त्यौहार आने वाले हैं। ये उल्लास का कारण बनें, संक्रमण नहीं फैले, इसके लिए हमें और सावधानी रखनी है। ये भी देखना होगा कि उत्सव के समय गरीब परिवारों को परेशानी नहीं हो। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ समय पर पहुंचना चाहिए।

मोदी ने कहा कि हमें इस बात का ध्यान रखना है कि हमारे कोरोना योद्धा किसी तरह की थकान का शिकार नहीं हों। हमें नए और रिटायर जो भी प्रोफेसर आगे आना चाहते हैं उन्हें जोड़ने के लिए भी लगातार काम करना होगा। उन्होंने कहा कि हमारे देश के टैलेंटेड वैज्ञानिक कोरोना वैक्सीन के लिए तेज़ी से काम कर रहे हैं। लेकिन जब तक कोई प्रभावी दवा या वेक्सीन नहीं बनती, तब तक मास्क, 2 गज़ की दूरी, हैंड सैनिटाइजेशन ही हमारा विकल्प है। हमें खुद भी बचना है और घर में छोटी-बड़ी आयु सभी परिजनों को भी बचाना है। मुझे विश्वास है कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई, हम सभी मिलकर लड़ेंगे और जीतेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.