विश्व
पुष्टि - 786,987
मृत्यु - 37,843
ठीक- 165,933
भारत
पुष्टि - 1,251
मृत्यु - 32
ठीक- 102
फ्रांस
पुष्टि - 44,550
मृत्यु - 3,024
ठीक- 7,927
ईरान
पुष्टि - 41,495
मृत्यु - 2,757
ठीक- 13,911
इटली
पुष्टि - 101,739
मृत्यु - 11,591
ठीक- 14,620
अमेरिका
पुष्टि - 164,278
मृत्यु - 3,170
ठीक- 5,507

चिंता करने की जरूरत नहीं, सब ठीक है, थोड़ा धैर्य आवश्यक है, ‘मैं NCP में हूं और हमेशा रहूंगा,पवार साहब हमारे नेता हैं, हम अगले पांच वर्षों के लिए महाराष्ट्र में एक स्थिर सरकार प्रदान करेगा : अजित पवार

मुंबई। एक दिन पूर्व शनिवार को सभी को चौंकाते हुए महाराष्ट्र में डिप्टी CM के रूप में शपथ ले चुके NCP के अजित पवार ने रविवार को PM मोदी को धन्यवाद दिया और उन्हें राज्य में “स्थिर सरकार” का आश्वासन दिया। इसके अलावा उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा कि- ‘मैं NCP में हूं और हमेशा NCP में रहूंगा और शरद पवार साहब हमारे नेता हैं। हमारा भाजपा-राकांपा गठबंधन अगले पांच वर्षों के लिए महाराष्ट्र में एक स्थिर सरकार प्रदान करेगा जो राज्य और इसके लोगों के कल्याण के लिए ईमानदारी से काम करेगा।’ इसके बाद एक और ट्वीट में उन्होंने लिखा- ‘चिंता करने की बिलकुल जरूरत नहीं है, सब ठीक है। हालांकि थोड़ा धैर्य आवश्यक है। आप सभी के समर्थन के लिए बहुत बहुत धन्यवाद।’

पहले PM मोदी का शुक्रिया करते हुए पवार ने ट्वीट कर लिखा था- ‘शुक्रिया माननीय। प्रधान मंत्री जी। हम एक स्थिर सरकार सुनिश्चित करेंगे जो महाराष्ट्र के लोगों के कल्याण के लिए कड़ी मेहनत करेगी।’ ट्वीट्स की एक श्रृंखला में, पवार ने बीजेपी नेताओं – स्मृति ईरानी, ​​जेपी नड्डा, राजनाथ सिंह, अमित शाह, निर्मला सीतारमण और उन सभी को धन्यवाद दिया, जिन्होंने उन्हें उप मुख्यमंत्री बनने पर बधाई दी थी।

शनिवार शाम को, NCP ने अजीत पवार को पार्टी की विधायिका इकाई के प्रमुख पद से हटा दिया था। उनका कहना था कि फडणवीस सरकार को समर्थन देने का उनका निर्णय पार्टी की नीतियों के अनुरूप नहीं था। इससे पहले आज, राकांपा नेता जयंत के नाम को एक पत्र लेकर राजभवन गए और उन्हें विधायक दल के नेता के रूप में अजीत पवार को हटाए जाने के बारे में सूचित किया।

इससे पहले आज, शीर्ष अदालत ने महाराष्ट्र सरकार, राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, उनके डिप्टी अजीत पवार और केंद्र को नोटिस जारी किया। इसमें सोमवार को सुबह 10 बजे तक विधायकों से समर्थन से संबंधित दस्तावेज और पत्र मांगे गए हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *