विश्व
पुष्टि - 31,783,676
मृत्यु - 975,471
ठीक- 23,400,797
भारत
पुष्टि - 5,646,010
मृत्यु - 90,021
ठीक- 4,587,613
रूस
पुष्टि - 1,115,810
मृत्यु - 19,649
ठीक- 917,949
पेरू
पुष्टि - 776,546
मृत्यु - 31,586
ठीक- 629,094
ब्राज़िल
पुष्टि - 4,595,335
मृत्यु - 138,159
ठीक- 3,945,627
अमेरिका
पुष्टि - 7,097,937
मृत्यु - 205,471
ठीक- 4,346,110

अयोध्या से योगी की अपील, 5 अगस्त राम मंदिर भूमि पूजन के दिन मनाएं दिवाली, हर घर व मंदिर में जलाये कम से कम पांच दीए

अयोध्या। रामजन्मभूमि में विराजमान रामलला के भव्य मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन के अवसर पर अयोध्या समेत पूरे प्रदेश में दीवाली मनाई जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को भूमि पूजन की तैयारी के लिए संतों की बैठक में यह आह्वान किया। कारसेवकपुरम में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री श्री योगी ने कहा कि पांच सौ वर्षों के बाद वह शुभ घड़ी आई है जिसका हिन्दू समाज को बेसब्री से इंतजार था। उन्होंने कहा कि यह एक अवसर है जब हम हर घर व मंदिर में दीपक जलाकर पूरी दुनिया को गौरवशाली क्षण का एहसास करा सकते हैं।

सरयू किनारे राम की पैड़ी पर भी 11 हजार दीए जलाए जाएंगे
मुख्यमंत्री योगी ने हर घर व मंदिर में कम से कम पांच दीए जलाने का आह्वान करते हुए यह भी जानकारी दी कि इस दौरान राम की पैड़ी पर भी 11 हजार दीए जलाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पांच अगस्त को निर्धारित मुहूर्त में रामलला के भव्य मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। इसके साथ संतों से अपेक्षा की कि रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की ओर से आपको जब आमन्त्रण दिया जाए तो वही लोग कार्यक्रम में शामिल हों जिन्हें आमंत्रित किया गया है। उन्होंने कहा कि अपने साथ अतिरिक्त लोगों को न लाएं क्योंकि सोशल डिस्टेसिंग के लिए सीमित लोगों को ही आमंत्रित करने की मजबूरी है। उन्होंने कहा कि किसी के बहकावे में आने और भ्रमित होने की जरूरत नहीं है। सम्पूर्ण अयोध्या को भव्यता देने की हमारी जिम्मेदारी है और विकास कार्य भी चल रहे हैं जिन्हें समयबद्ध ढंग से पूरा कराया जाएगा।

रामनगरी में संत और नागरिक शुरू करें सामूहिक स्वच्छता अभियान
उन्होंने कहा कि राम मंदिर निर्माण शुरू होने के साथ रामजन्मभूमि न्यास के पूर्व अध्यक्ष महंत रामचंद्र दास परमहंस और विहिप सुप्रीमो अशोक सिंहल की आत्मा को शांति मिलेगी। उन्होंने कहा कि मंदिर आन्दोलन को संघ का नेतृत्व मिला और संतों का मार्गदर्शन मिला जिसके कारण साधना की सिद्धि हुई है। मुख्यमंत्री श्री योगी ने कहा कि इसीलिए इस अवसर को पूरी दुनिया के लिए यादगार बनाना है। इस कार्य में सभी संतों एवं समाज का सहयोग अपेक्षित है। उन्होंने सभी से पूरी अयोध्या को स्वच्छ और सुंदर बनाने की अपील करते हुए कहा कि हर मंदिर, मठ, घर, सड़क और हर गली साफ-सुधरी और सुंदर बने, इसके लिए रविवार से सामूहिक प्रयास शुरू कर दें।

छवि

बैठक के अंत में रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के अध्यक्ष व मणिराम छावनी पीठाधीश्वर महंत नृत्यगोपाल दास ने मुख्यमंत्री को संत समाज की ओर से आश्वस्त किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का भव्यतम स्वागत होगा। उन्होंने कहा कि यह पूरे हिन्दू समाज के लिए ऐतिहासिक क्षण होगा। इससे पूर्व कौशलेश सदन पीठाधीश्वर जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी वासुदेवाचार्य ने पांच अगस्त के मुहूर्त पर सवाल उठाने वालों को खारिज करते हुए चुनौती दी। बैठक का संचालन करते ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित सभी संतों का स्वागत किया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.