“दादा” सौरव गांगुली बने BCCI के 39वें अध्यक्ष, संभाला कार्यभार दी धोनी-कोहली पर बेबाक राय

मुंबई। BCCI अध्यक्ष पद का कार्यभार संभालने के बाद सौरव गांगुली मीडिया से खुलकर चर्चा की। इस दौरान BCCI के अध्यक्ष गांगुली ने धोनी के संन्यास और विराट कोहली के खेल पर भी अपनी राय रखते हुए भारतीय क्रिकेटरों की भी जमकर तारीफ की है। गांगुली ने धोनी को चैंपियन खिलाड़ी करार देते हुए कहा कि चैंपियन कभी भी जल्दी अपना खेल नहीं छोड़ते। इसके साथ ही दादा ने अपने उस दौर का भी उदाहरण दिया, जब उन्होंने करीब डेढ़ साल इंटरनेशनल क्रिकेट से बाहर रहने के बाद क्रिकेट में जोरदार वापसी की थी और फिर अगले दो साल तक लगातार क्रिकेट खेला था।

BCCI अध्यक्ष गांगुली हितों के टकराव के नियम पर कहा कि इसे बदलना होगा। यह पहले से ही सीओए द्वारा किया जा रहा है, जिन प्रशासकों का आज कार्यकाल खत्म हो गया वे पहले ही इस मामले को सुप्रीम कोर्ट में ले जा चुके हैं। इसलिए, हम देखेंगे कि इसमें कितना संशोधन किया जा सकता है।

ज्ञात हो कि इससे पहले भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली आज BCCI अध्यक्ष चुने गए है। मुंबई में BCCI बोर्ड की बैठक में उनके नाम पर मुहर लग गई है। बुधवार को बोर्ड के मुंबई स्थित हेडक्वार्टर में जनरल बॉडी मीटिंग के दौरान आधिकारिक तौर पर गांगुली की नियुक्ति की घोषणा कर दी गई है। गांगुली निर्विरोध चुने गए हैं। वे जुलाई 2020 तक इस पद पर बने रहेंगे। 47 साल के सौरव गांगुली ने BCCI की कमान संभालते ही 65 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली BCCI अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाल लिया है। वे BCCI के 39वें अध्यक्ष बन गए हैं। इससे पहले BCCI अध्यक्ष पद के लिए गांगुली का नामांकन सर्वसम्मति से हुआ था, जबकि गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय सचिव बने। उत्तराखंड के महिम वर्मा BCCI के नए उपाध्यक्ष बने हैं।

Please follow and like us:
Twitter20
Facebook0
Follow by Email

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!