विश्व
पुष्टि - 19,834,735
मृत्यु - 730,210
ठीक- 12,741,325
भारत
पुष्टि - 2,158,408
मृत्यु - 43,518
ठीक- 1,483,197
रूस
पुष्टि - 887,536
मृत्यु - 14,931
ठीक- 693,422
दक्षिण अफ्रीका
पुष्टि - 553,188
मृत्यु - 10,210
ठीक- 404,568
ब्राज़िल
पुष्टि - 3,013,369
मृत्यु - 100,543
ठीक- 2,094,293
अमेरिका
पुष्टि - 5,150,060
मृत्यु - 165,074
ठीक- 2,638,673

PM मोदी ने बंगाल और ओडिशा के तूफान प्रभावित क्षेत्रों का किया हवाई सर्वे, राज्यों को 1 हजार और 500 करोड़ रुपये की मदद का किया ऐलान

कोलकाता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल के तूफान प्रभावित इलाकों का दौरा किया। पश्चिम बंगाल में अम्फन तूफान ने भारी तबाही मचाई है। बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने PM मोदी से राज्य का दौरा करने का आग्रह किया था। इसी के बाद PM मोदी शुक्रवार को सुबह कोलकाता पहुंचे और उन्होंने राज्यपाल जगदीप धनखड़ और CM ममता बनर्जी के साथ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। हवाई सर्वेक्षण के दौरान प्रभावित इलाकों के ज्‍यादातर स्‍थान पानी से घिरे नजर आ रहे थे।

हवाई सर्वेक्षण के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने समीक्षा बैठक की और पश्चिम बंगाल के लिए एक हजार करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया। PM मोदी ने कहा, ‘जिन लोगों की साइक्लोन की चपेट में आकर मौत हुई है, उनके परिजनों को दो लाख रुपये और गंभीर रूप से घायल हुए लोगों के परिजनों को 50 हजार रुपये की मदद दी जाएगी।’

उन्होंने कहा कि संकट के इस दौर में पूरा देश बंगाल के साथ खड़ा है और केंद्र सरकार पश्चिम बंगाल को हरसंभव मदद देगी। जल्दी ही एक केंद्रीय टीम पूरी स्थिति का आकलन करने के लिए पश्चिम बंगाल आएगी।

ज्ञात हो कि पश्चिम बंगाल में तूफान की वजह से 80 लोगों की मौत हो गई है और दो जिले पूरी तरह तबाह हो गए हैं। तूफान से हजारों लोग बेघर हो गए हैं, कई पुल नष्ट हो गए हैं और निचले इलाके जलमग्न हो गए हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने ओडिशा में चक्रवात अम्फान प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और दूसरे वरिष्ठ अधिकारियों के साथ राज्य में चक्रवात अम्फान की​ स्थिति को लेकर बैठक की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैठक के बाद कहा तत्काल आवश्यकता को ​देखते हुए हमने 500 करोड़ रुपये एडवांस व्यवस्था के तौर पर ओडिशा को देने का फैसला किया है।

भारत सरकार ने भी कहा है ओडिशा के लोगों के साथ एकजुटता दिखाते हुए और जान गंवाने वालों के लिए दुख व्यक्त करते हुए, प्रधानमंत्री ने मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये और राज्य में चक्रवात में गंभीर रूप से घायल लोगों को 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को ओडिशा के तटीय जिलों में चक्रवात अम्फान से हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए हवाई सर्वे किया। उनके साथ राज्यपाल प्रोफेसर गणेशी लाल और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक भी थे, जबकि केंद्रीय मंत्रियों धर्मेंद्र प्रधान और प्रताप सारंगी ने एक अलग हेलिकॉप्टर में उड़ान भरी। ओडिशा तट को पार करने और पश्चिम बंगाल तट पर बुधवार को दस्तक देने के बाद चक्रवात ने राज्य के तटीय क्षेत्रों में तबाही का मंजर छोड़ा है।

इससे पहले, मोदी ने ट्वीट किया था, “मेरे विचार ओडिशा के लोगों के साथ हैं क्योंकि राज्य चक्रवात अम्फान के प्रभाव खिलाफ बहादुरी से लड़ रहा है। अधिकारी प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता सुनिश्चित करने के लिए जमीनी स्तर पर काम कर रहे हैं। मैं जल्द से जल्द हालात सामान्य होने की प्रार्थना करता हूं।”

ओडिशा आने से पहले, प्रधानमंत्री ने पश्चिम बंगाल में चक्रवात प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वे किया और स्थिति की समीक्षा के बाद तत्काल सहायता के लिए 1,000 करोड़ रुपये की घोषणा की।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.