विश्व
पुष्टि - 115,302,022
मृत्यु - 2,560,638
ठीक- 91,127,337
भारत
पुष्टि - 11,139,516
मृत्यु - 157,385
ठीक- 10,812,044
रूस
पुष्टि - 4,268,215
मृत्यु - 86,896
ठीक- 3,838,040
फ्रांस
पुष्टि - 3,783,528
मृत्यु - 87,220
ठीक- 259,893
ब्राज़िल
पुष्टि - 10,647,845
मृत्यु - 257,562
ठीक- 9,527,173
अमेरिका
पुष्टि - 29,370,705
मृत्यु - 529,214
ठीक- 19,905,322

कांग्रेस ने अपनी हरकतों से देश को किया शर्मशार, ये दिवालियापन तो है ही साथ ही कांग्रेस की वोटबैंक की राजनीति भी है : जावडेकर

नई दिल्ली। आर्टिकल 370 हटाने के बाद से जम्मू-कश्मीर को लेकर शुरू हुई राजनीति खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। मोदी सरकार ने लगातार अपनी बड़ी उपलब्धि के रूप में पेश कर रही है, जबकि प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस इस मुद्दे को भुनाने में लगा हुआ है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज ट्वीट कर कहा कि मैं कई मुद्दों पर इस सरकार से असहमति रखता हूं लेकिन, मैं एक चीज साफ कर देना चाहता हूं कि कश्मीर भारत का आतंरिक मुद्दा है और पाकिस्तान या दुनिया के किसी देश के लिए इसमें दखल देने की कोई जगह नहीं है।

जम्मू-कश्मीर में हिंसा पाकिस्तान प्रायोजित है जो पूरी दुनिया में आतंकवाद के समर्थन के रूप में कुख्यात है। हालांकि भाजपा ने राहुल के इस बयान को राजनीति से प्रेरित बताया है वंही केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राहुल का बयान दिवालियापन को दर्शाता है। कश्मीर की जो वास्तविकता नहीं है, राहुल वह बोले हैं।

वे पाकिस्तान के हाथ में खेल रहे हैं। पाकिस्तान ने राहुल के बयान को आधार बनाकर UN में एक पत्र दिया है। जब देश में राहुल का जबरदस्त विरोध होने लगा तब उन्होंने अपने पहले के बयान से यू-टर्न ले लिया। वायनाड से जीतने के बाद क्या राहुल ने सोच भी बदल ली? जिन्होंने देश में आपातकाल लगाया, वे हमें न सिखाएं।

जावड़ेकर ने कहा- घाटी में हिसा और मौत के राहुल गांधी के दिए बयान का इस्तेमाल पाकिसतान ने भारत के खिलाफ यूनाइटेड नेशंस में अपनी याचिका में किया है। इसमें इस्लामाबाद ने कहा है कि- “कश्मीर की हिंसा को मुख्यधारा के राजनेता जैसे कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने माना है।”

हालांकि, बुधवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को कहा कि वह कई मुद्दों पर नरेंद्र मोदी सरकार से असहमत हैं, लेकिन यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है और पाकिस्तान या कोई दूसरा देश इसमें दखल नहीं दे सकता।

राहुल गांधी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि यह पड़ोसी देश जम्मू-कश्मीर में हिंसा भड़का रहा है और आतंकवाद समर्थक के तौर पर दुनिया भर में जाना जाता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.