विश्व
पुष्टि - 19,834,735
मृत्यु - 730,210
ठीक- 12,741,325
भारत
पुष्टि - 2,158,408
मृत्यु - 43,518
ठीक- 1,483,197
रूस
पुष्टि - 887,536
मृत्यु - 14,931
ठीक- 693,422
दक्षिण अफ्रीका
पुष्टि - 553,188
मृत्यु - 10,210
ठीक- 404,568
ब्राज़िल
पुष्टि - 3,013,369
मृत्यु - 100,543
ठीक- 2,094,293
अमेरिका
पुष्टि - 5,150,060
मृत्यु - 165,074
ठीक- 2,638,673

मुख्यमंत्री बघेल ने भारतरत्न डॉ.राजेन्द्र प्रसाद को जयंती पर किया नमन और अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस की दी बधाई

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्वतंत्र भारत के प्रथम राष्ट्रपति और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी भारतरत्न डॉ.राजेन्द्र प्रसाद को उनकी जयंती 3 दिसम्बर पर नमन करते हुए श्रद्धा सुमन अर्पित किए हैं। श्री बघेल ने डॉ.राजेन्द्र प्रसाद के योगदान को याद करते हुए कहा है कि राजेन्द्र बाबू ने भारतीय स्वाधीनता संग्राम के महत्वपूर्ण राजनेताओं में से एक थे । उन्होंने संविधान सभा के अध्यक्ष के रूप में देश को एक मजबूत संविधान देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। डॉ.राजेन्द्र प्रसाद ने राष्ट्रपति रहते हुए कभी अपने संवैधानिक अधिकारों पर किसी को दखलंदाजी करने का अवसर नहीं दिया और स्वतंत्र तथा निष्पक्ष रूप से कार्य किया। उनके श्रेष्ठ जीवन मूल्य और अमूल्य विचार हमें हमेशा प्रेरणा देते रहेंगे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 3 दिसम्बर अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांग दिवस की बधाई देते हुए दिव्यांगजन को उनके उज्ज्वल और सुखद भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी हैं। श्री बघेल ने कहा कि हर वर्ष की तरह इस साल भी 3 दिसम्बर को विश्व दिव्यांग दिवस मनाया जाएगा। इस दिन का मुख्य उद्देश्य दिव्यांग व्यक्तियों के लिए समान अधिकार देने के साथ ही तरक्की और विकास के रास्ते सुनिश्चित करना है। उन्होंने कहा कि दिव्यांगता मात्र एक शारिरिक अवस्था होने के बावजूद कई बार दिव्यांगों को भेदभाव और उपेक्षा का शिकार होना पड़ता है। इसके लिए समाज में जागरूकता की जरूरत है। दिव्यांग दिवस तभी सार्थक हो सकेगा जब दिव्यांग अन्य नागरिकों के समान ही आर्थिक और सामाजिक परिस्थिति पा सकें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.