तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच भड़की हिंसा, फायरिंग के बाद वकीलों ने पुलिस की गाड़ी में लगाई आग

नई दिल्ली। दिल्ली में पार्किंग को लेकर शनिवार को दिन में तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच में जबरदस्त झड़प हो गई। पुलिस और वकीलों के बीच हुई इस झड़प ने देखते ही देखते भयानक रूप ले लिया। तीस हजारी कोर्ट के वकील लगातार हमलावर हो गये थे जिसके जवाब में पुलिस ने फायरिंग की। फायरिंग के बाद वकीलों ने पुलिस की गाड़ी में आग लगा दी। इसके अलावा वकीलों ने पुलिस के कुछ अधिकारियों की पिटाई भी कर दी है। वहां आप-पास के लोगों के मुताबिक वकीलों ने कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की है और गाडी़ को आग लगा दी।

इस समय अदालत परिसर का माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है। बताया जा रहा है कि कई गाड़ियों में तोड़फोड़ और फायरिंग भी की गई। कोर्ट के पास हुई इस भयानक घटना में एक वकील जिसका नाम विजय वर्मा है, घायल हो गया है। उसे तुरंत पास के ही सेंट स्टीफंस अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है।

तीस हजारी बार एसोसिएशन के पदाधिकारी जय बिसवाल ने बताया कि अदालत में आते समय एक पुलिस वाहन ने एक वकील के वाहन को टक्कर मार दी। जब वकील ने इसपर विरोध किया तो उनका मजाक उड़ाया गया और 6 पुलिस कर्मी उन्हें अंदर ले गए और उनकी पिटाई की। लोगों ने इसे देखा तो पुलिस को बुलाया।

वकीलों ने पुलिस द्वारा उन पर गोलीबारी करने का आरोप लगाया है, लेकिन पुलिस अभी तक आरोप का जवाब नहीं दे पाई है। जबकि शुरुआती रिपोर्टों में कहा गया है कि पार्किंग विवाद के कारण झड़प हुई, पुलिस की ओर से कोई पुष्टि नहीं की गई। घटनास्थल पर स्थिति तनावपूर्ण है और उपद्रवियों को परिसर में प्रवेश करने से रोकने के लिए पुलिस ने कुछ गेट बंद कर दिए हैं। आग बुझाने के लिए दमकल की गाड़ियां पहुंची हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *