जब भिखारी ने मंदिर को दिये लाखों रुपए दान, मंदिर प्रबंधकों ने किया ऐसे इस्तेमाल

विजयवाड़ा। एक भिखारी ने स्थानीय मंदिर को 8 लाख रुपए दान दिया है। भिखारी यादिरेड्डी (75) ने इतनी भारी रकम साईं बाबा मंदिर के लिए दान दिया है। पता चला है कि नलगोंडा जिला निवासी यादिरेड्डी विजयवाड़ा शहर के मुत्यालमपाडू में साई बाबा मंदिर कुछ सालों से भीख मांगकर जीवन यापन कर रहा है। उसने अब तक मंदिर के लिए 8 लाख रुपये दान दिया है।

यादिरेड्डी इससे पहले एक रिक्शा चलाता था। रिक्शा चलाने के कारण उसके घुटनों में दर्द हो गया। इसके चलते मजबूरी में वह मंदिर के सामने भीख मांगने लगा। वह पिछले 30 सालों से भीख मांगकर मंदिर के पास गुजारा कर रहा है। यादिरेड्डी ने मीडिया को बताया कि सबसे पहले मैंने मंदिर में 1 लाख रुपए दिए थे। मेरा स्वास्थ्य बिगड़ने लगा। मुझे महसूस हुआ कि अब मुझे पैसे की जरूरत नहीं है। इसलिए मैंने ज्यादा से ज्यादा पैसा मंदिर में दान देना शुरू कर दिया।

रेड्डी ने यह भी बताया कि मंदिर में जब से उन्होंने दान देना शुरू किया है, तब से भीख की रकम में बढ़ोत्ती होती जा रही है। जब से मैंने दान देना शुरू किया है, तब से लोग मुझे पहचानने लगे। इसके बाद मेरी भीख की कमाई धीरे-धीरे बढ़ने लगी हैं। अब तक मैं मंदिर में 8 लाख रुपए दे चुका हूं। मैंने भगवान की कसम खाई है कि अपनी पूरी कमाई को भगवान को दान करूंगा। उसने यह भी कहा कि पूरा जीवन मंदिर के पास ही बिताएगा।

दूसरी ओर मंदिर के प्रबंधकों ने बताया कि यादिरेड्डी के दान से मंदिर के विकास में काफी मदद मिली है। अधिकारियों ने यह भी बताया कि भिखारी के दान से हम गौशाला बनाने में उपयोग किया है। हम यादिरेड्डी के इस कार्य की सराहना करते हैं। उन्होंने बताया कि हमने किसी से भी कभी भी किसी तरह के दान की मांग नहीं करते हैं। जो भी खुशी से दान देते हैं उसे स्वीकार करते हैं। अधिकतर लोग यहां पर अपनी खुशी से दान करते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *