विश्व
पुष्टि - 60,720,993
मृत्यु - 1,426,841
ठीक- 42,032,104
भारत
पुष्टि - 9,266,705
मृत्यु - 135,261
ठीक- 8,679,138
रूस
पुष्टि - 2,162,503
मृत्यु - 37,538
ठीक- 1,660,419
फ्रांस
पुष्टि - 2,170,097
मृत्यु - 50,618
ठीक- 156,552
ब्राज़िल
पुष्टि - 6,166,898
मृत्यु - 170,799
ठीक- 5,512,847
अमेरिका
पुष्टि - 13,137,962
मृत्यु - 268,219
ठीक- 7,805,280

प्रधानमंत्री मोदी 30-31 को गुजरात दौरे पर : कई कार्यक्रमों में होंगे शामिल, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से साबरमती तक शुरू करेंगे सी प्लेन सेवा

न्यूज़ डेस्क। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 30 और 31 अक्तूबर को गुजरात के दो दिन के दौरे पर होंगे। प्रधानमंत्री इस दौरान कई कार्यक्रमों में शामिल होंगे। प्रधानमंत्री मोदी केवडिया में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी और अहमदाबाद के साबरमती रिवरफ्रंट के बीच सी-प्लेन सेवा की शुरूआत करेंगे। केवडिया के समेकित विकास कार्यक्रम के तहत प्रधानमंत्री मोदी 30 और 31 अक्टूबर को विभिन्न परियोजनाओं का भी उद्घाटन करेंगे। इन परियोजनाओं के तहत स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के लिए एकता क्रूज सेवा, एकता मॉल और बच्चों के लिए पोषक पार्क का भी प्रधानमंत्री उद्घाटन करेंगे। इसके अलावा यूनिटी ग्लो गार्डन में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की वेबसाइट को भी लॉन्च करेंगे। जो कि संयुक्त राष्ट्र संघ की सभी आधिकारिक भाषाओं में उपलब्ध होगी। साथ ही वह केवडिया एप को भी लांच करेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की 145वीं जयंती के अवसर पर 31 अक्टूबरॉ को गुजरात के केवड़िया में आयोजित एकता समारोह में भाग लेंगे। श्री मोदी इस अवसर पर स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पर श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। साथ ही लोगों को एकता दिवस की शपथ दिलाएंगे। प्रधानमंत्री इस मौके पर आयोजित एकता दिवस परेड में भी शामिल होंगे।

एकता क्रूज सेवा
एकता क्रूज सेवा के माध्यम से पर्यटक फेरी बोट सर्विस के जरिए श्रेष्ठ भारत भवन से लेकर स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी की छह किलोमीटर की दूरी तय कर सकेंगे। साथ ही स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी के खूबसूरत नजारे का भी लुत्फ उठा सकेंगे। इस यात्रा को 40 मिनट में तय किया जाएगा। जिसमें एक नाव पर अधिकतम 200 यात्री सफर कर सकेंगे। फेरी सेवाओं के लिए नया गोरा पुल खास तौर से बनाया गया है। नाव सेवा को शुरू करने का उद्देश्य स्टैच्यू ऑफ यूनिटी आने वाले पर्यटकों को बोटिंग सेवाओं का अनुभव देना है।

एकता मॉल
एकता मॉल में भारत की मौजूद हस्तकलाओं और पारंपरिक उत्पादों का प्रदर्शन किया जाएगा। यहां पर पूरे देश से आए उत्पाद प्रदर्शित किए जाएंगे। जिसका उद्देश्य एकता का संदेश देना है। यह मॉल 35 हजार वर्गफुट में फैला हुआ है। मॉल में 20 एम्पोरियम हैं, जो प्रत्येक राज्य का प्रतिनिधत्व करते हैं। एकता मॉल को केवल 110 दिनों में निर्मित किया गया है।

बच्चों के लिए पोषक पार्क
यह दुनिया का पहला प्रौद्योगिकी आधारित बच्चों के लिए पोषक पार्क है। जो कि 35 हजार वर्गफुट में फैला हुआ है। पार्क में एक न्यूट्री ट्रेन भी चलाई जाएगी। जिसके स्टेशन के नाम भी काफी रोचक रखे गए हैं। जिनके फलशाखा गृहम, पायोनागिरी, अन्नपूर्णा, पोषण पुराण, स्वस्थ भारत नाम दिए गए हैं। पार्क का उद्देश्य विभिन्न गतिविधियों के जरिए पोषक भोजन के प्रति जागरूकता फैलाना है। पार्क में इसके लिए मिरर मेज, 5डी वर्चुअल रियल्टी थिएटर और अगुमेंटेंड रियल्टी गेम की भी व्यवस्था की गई है।

आरंभ
प्रधानमंत्री मोदी भारतीय सिविल सेवा के एलबीएसएनएए, मंसूरी स्थित प्रशिक्षुओं को भी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करेंगे। उनका संबोधन इंटीग्रेटेड फाउंडेशन कोर्स “आरंभ” का हिस्सा है। जो कि पहली बार 2019 में लांच किया गया था। इसका उद्देश्य परंपरागत रूप से विभागीय और सेवाओं स्तर पर बंटी आ रही सोच को खत्म करना है। जिससे कि अपने करियर को सिविल अधिकारी नई सोच के साथ शुरू कर सके। आरंभ का उद्देश्य सिविल अधिकारियों के अंदर विभिन्न विभागों और क्षेत्रों के साथ बिना किसी अड़चन के मिलकर काम करने की क्षमता विकसित करना है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.