विश्व
पुष्टि - 186,349,589
मृत्यु - 4,026,838
ठीक- 170,490,387
भारत
पुष्टि - 30,752,950
मृत्यु - 405,967
ठीक- 29,888,284
रूस
पुष्टि - 5,707,452
मृत्यु - 140,775
ठीक- 5,143,255
फ्रांस
पुष्टि - 5,799,107
मृत्यु - 111,284
ठीक- 5,641,588
ब्राज़िल
पुष्टि - 18,962,786
मृत्यु - 530,344
ठीक- 17,422,854
अमेरिका
पुष्टि - 34,676,896
मृत्यु - 622,213
ठीक- 29,203,308

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए ‘बरस रहे’ पैसे, गुजराती व्यापारी ने दिया 11 करोड़ रुपये का दान

गांधीनगर। अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए लोग खुले मन से दान दे रहे हैं। गुजरात के एक व्यवसायी ने रविवार को अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए 11 करोड़ रुपये का दान दिया। गोविंद ढोलकिया सूरत के एक व्यापारी हैं जो SRK डायमंड कंपनी के मालिक हैं। इससे पहले यूपी से बीजेपी के क विधायक ने 1,11,11,111 रुपए का दान दिया था।

मीडिय से उन्होंने कहा, “भगवान राम और भगवान कृष्ण हमारे ईष्ट देवता हैं। यही कारण है कि हमने अपनी कंपनी का नाम श्रीराम कृष्ण एक्सपोर्ट रखा है जो बाद में खुद SRK बन गया। इसलिए हमारे परिवार ने सोचा कि जब 500 वर्षों के बाद मंदिर बनाया जा रहा है तो हमें निश्चित रूप से योगदान देना चाहिए।”

उन्होंने कहा, ‘ईश्वर को इसकी आवश्यकता नहीं है, वह स्वयं धनवान है। लेकिन ईश्वर ने हमें जो भी शक्ति प्रदान की है, हमें उससे कुछ करना चाहिए। हमारे परिवार ने राशि के बारे में बहुत सोचा और अंत में 11 करोड़ रुपये समर्पित करने का फैसला किया। सर्वशक्तिमान ने हमें बहुतायत में दिया है, इसलिए हमने भगवान के सम्मान में राशि समर्पित करने का फैसला किया है।”

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण में योगदान के रूप में 5,00,100 रुपये का दान दिया था। इसी के साथ धन संग्रह अभियान की शुरुआत की गई।

गौरतलब है कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट अयोध्या में भव्य मंदिर के निर्माण के लिए एक जन संपर्क और योगदान अभियान चला रहा है जो 15 जनवरी से शुरू हुआ और 27 फरवरी तक चलेगा।

मंदिर का निर्माण देश की प्राचीन और पारंपरिक निर्माण तकनीकों का पालन करके किया जाएगा। इसे भूकंप, तूफान और अन्य प्राकृतिक आपदाओं से बेअसर बनाए रखने के लिए तैयार किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को राम जन्मभूमि स्थल पर ‘भूमि पूजन’ कर मंदिर निर्माण की शुरुआत की थी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.