विश्व
पुष्टि - 155,827,941
मृत्यु - 3,255,399
ठीक- 134,015,119
भारत
पुष्टि - 21,070,852
मृत्यु - 230,151
ठीक- 17,269,076
रूस
पुष्टि - 4,847,489
मृत्यु - 111,895
ठीक- 4,464,550
फ्रांस
पुष्टि - 5,706,378
मृत्यु - 105,631
ठीक- 4,729,174
ब्राज़िल
पुष्टि - 14,936,464
मृत्यु - 414,645
ठीक- 13,529,572
अमेरिका
पुष्टि - 33,321,244
मृत्यु - 593,148
ठीक- 26,035,314

दिग्गज कंपनियों को पछाड़ कर Jio बना दुनिया का पांचवां सबसे मजबूत ब्रांड, एप्पल, अमेजन, अलीबाबा और पेप्सी को छोड़ा पीछे

बिजनेस डेस्क। Jio दुनिया का पांचवां स्ट्रॉन्गेस्ट ब्रांड बन गया है। ब्रांड फाइनेंस ग्लोबल 500 की लिस्ट में पहली बार शामिल हुए रिलायंस जियो ने भारी उलट फेर करते हुए 5वीं रैंकिंग हासिल की है। ब्रांड फाइनेंस ग्लोबल 500 की लिस्ट में दुनिया के सबसे मजबूत ब्रांड्स की रैंकिंग की जाती है। एप्पल, अमेजन, अलीबाबा और पेप्सी जैसी दिग्गज कंपनियों को रिलायंस जियो ने पीछ छोड़ दिया है। दुनिया के सबसे मजबूत पहले 10 ब्रांड्स में रिलायंस जियो भारत से अकेला नाम है। ब्रॉन्ड की मजबूती के मामले में रिलायंस जियो ने 100 में से 91.7 ब्रांड स्ट्रेंथ इंडेक्स (BSI) अंक और AAA+ की रैकिंग हासिल की हैं। ब्रांड फाइनेंस द्वारा घोषित सबसे मजबूत ब्रांड वीचैट (WeChat) है जिसनें 100 में से 95.4 का ब्रांड स्ट्रेंथ इंडेक्स (BSI) स्कोर हासिल किया है। ऑटो दिग्गज फेरारी ने दूसरा स्थान प्राप्त किया, रूसी बैंक एसबीइआर और कोका-कोला दुनिया में तीसरे और चौथे सबसे मजबूत ब्रांड है।

Jio टेलिकॉम सेक्टर में ब्रांड वैल्यू के लिहाज से सबसे तेजी से बढ़ने वाला ब्रांड है, जहां पूरे उद्योग में नकारात्मक वृद्धि देखी जा रही है वहीं जियो की ब्रांड वैल्यू 4.8 बिलियन डॉलर हो गई है। 2016 में जियो ने भारतीय टेलीकॉम सेक्टर में एंट्री की थी। 40 करोड़ से अधिक ग्राहकों के साथ आज रिलायंस जियो भारत का सबसे बड़ा और दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर बन चुका है। रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस जियो ब्रांड में कोई कमी या कमजोरी नही दिखाई देती। जियो ने वैश्विक स्तर पर कई परिपाटियों को तोड़ा है और उसे अपने ग्राहकों का भरपूर समर्थन मिल रहा है।

ब्रॉन्ड फाइनेंस द्वारा तैयार दुनिया भर में सबसे मजबूत ब्रांडों की सूची ग्लोबल 500 में शीर्ष स्थान वीचैट को मिला है। ब्रॉन्ड फाइनेंस की सर्वाधिक मूल्यवान और मजबूत वैश्विक ब्रॉन्ड पर वार्षिक रिपोर्ट के मुताबिक, 2016 में स्थापित होने के बावजूद जियो तेजी से भारत की सबसे बड़ी दूरसंचार परिचालक बन गई है और यह दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा मोबाइल नेटवर्क है, जिसके लगभग 40 करोड़ ग्राहक हैं। जियो ने मुफ्त वॉयस कॉलिंग और मोबाइल फोन के लिए सस्ते डेटा की पेशकश की। रिपोर्ट के अनुसार जियो दूरसंचार क्षत्र में ब्रांड वैल्यू के लिहाज से सबसे तेजी से बढ़ने वाला ब्रॉन्ड है। विश्व भर में दूरसंचार उद्योग में नकारात्मक वृद्धि देखी जा रही है जबकि जियो की ब्रॉन्ड वैल्यू 4.8 अरब डॉलर हो गई है।

रिपोर्ट में कहा गया कि ब्रॉन्ड की मजबूती का मूल्यांकन विपणन निवेश, हितधारकों की हिस्सेदारी और व्यावसायिक प्रदर्शन के आधार पर किया गया। इन मानदंडों के अनुसार चीनी मोबाइल ऐप वीचैट ने फेरारी को पीछे छोड़कर दुनिया के सबसे मजबूत ब्रॉन्ड का खिताब हासिल किया। रूसी बैंक सेबर को इस सूची में तीसरा और कोका-कोला को चौथा स्थान मिला है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.