विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

दिल्ली झांसी रोड अग्निकांड में 43 मौतों की कब्रगाह बनी इमारत के मालिक रेहान को पुलिस ने किया गिरफ्तार, गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज

नई दिल्ली। दिल्ली की अनाज मंडी में रविवार को लगी आग के मामले में पुलिस ने इमारत के मालिक रेहान को गिरफ्तार कर लिया है। इस अग्निकांड में 43 लोगों की मौत हुई है। पुलिस ने उसपर भारतीय दंड संहिता की धारा 304 (गैर इरादतन हत्या) और धारा 285 (आग या ज्वलनशील पदार्थ के संदर्भ में लापरवाही) के तहत मामला दर्ज किया है। दरअसल, पुरानी अनाज मंडी की चार मंजिला इमारत में रविवार सुबह अचानक आग लगने से पांच नाबालिग समेत 43 मजदूरों की मौत हो गई। इस घटना में 22 मजदूर गम्भीर रूप से घायल भी हो गए। घायलों को राजधानी के विभिन्न अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दिल्ली पुलिस की नॉर्थ DCP मोनिका भारद्वाज ने कहा कि इमारत के मालिक रेहान और उसके मैनेजर फुरकन को गिरफ्तार कर लिया गया है। हम मामले की जांच कर रहे हैं। हमें जो सूचना मिली है, उसके अनुसार अब बॉडी के निकलने की संभावना बहुत कम है।

रानी झांसी रोड के पास पुरानी अनाज मंडी में चार मंजिला इमारत में सुबह करीब पांच बजे आग लग गई। करीब पांच सौ गज में बनी इस इमारत के भूतल से लेकर अलग अलग मंजिलों पर छोटे छोटे कुटीर उद्योग स्थापित हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि आग दूसरी मंजिल से शुरू हुई और धीरे धीरे इसने पूरी इमारत को घेर लिया। इमारत के भूतल और पहली मंजिल पर रहने वाले लोग तो निकलने में कामयाब हो गए। लेकिन अन्य मंजिलों पर मौजूद 65 लोग फंस गए थे।

दमकल विभाग के प्रमुख अतुल गर्ग ने बताया कि सुबह 5 बजकर 20 पर आग लगने की सूचना मिली थी। इसके बाद दमकल की 21 गाड़ियां आग बुझाने के काम में जुट गईं। मामले की गम्भीरता दो देखते हुए एनडीआए की टीम को भी बुलाया गया।

ढाई घंटे में आग पर काबू पाने के बाद बचाव दल ने इमारत में प्रवेश किया। फिर एक-एक करके इमारत में फंसे लोगों को बाहर निकाला जाने लगा। इसके साथ ही कैट्स एम्बुलेंस से घायलों को लेडी हार्डिंग, एलएनजेपी एवं आरएमल अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां 43 लोगों की मौत की पुष्टि हो गई। मृतकों में चार की मौत झुलसने से एवं अन्य की मौत दम घुटने से हुई है। सदर बाजार पुलिस ने गैर इरादतन हत्या की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया है। फारेंसिक टीम ने घटनास्थल का मुआयना कर सबूत भी जमा किए हैं।

दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि इस इमारत के एक मालिक रेहान को हिरासत में ले लिया गया है। साथ ही मामले की जांच अब दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच करेगी। पुलिस अधिकारी ने बताया कि मृतकों में अधिकतर बिहार के मुजफ्फर नगर, सीतामढ़ी एवं सहरसा के रहने वाले थे। मृतक के परिजनों को घटना की सूचना दे दी गई है।

CM अरविंद केजरीवाल ने मौके पर पहुंचकर हालात का जायजा लिया। उन्होंने घटना की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं। मतृको को दस-दस लाख और घायलों को एक-एक लाख मुआवजा देने की घोषणा की गई है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.