विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

करीब 24 घंटे के भारत दौरे के बाद शी जिनपिंग नेपाल के लिए रवाना, कश्मीर पर चीन से नहीं हुई कोई बात, ये हमारा आंतरिक मामला : भारत

नई दिल्ली। PM नरेन्द्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच कश्मीर विषय को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई यह जानकारी विदेश सचिव ने दी उन्होंने आगे बताया की हमारा स्टैंड एकदम क्लियर है कि कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि कश्मीर मसले पर PM मोदी और राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच ये मुद्दा उठा ही नहीं। उन्होंने कहा कि भारत बहुत पहले स्पष्ट कर चुका है कि कश्मीर भारत का आंतरिक मसला है। हालांकि दोनों नेताओं के बीच मुलाकात के दौरान दोनों देशों ने वैश्विक आतंकवाद और इससे पैदा होने वाले खतरे पर चर्चा की।

विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि PM मोदी और शी जिनपिंग के बीच मानसरोवर यात्रा का मुद्दा भी इस दौरान मानसरोवर की यात्रा पर जाने वाले यात्रियों की सुविधा पर बातचीत हुई।PM मोदी ने चीनी राष्ट्रपति को मानसरोवर यात्रियों की सुविधा के लिए कुछ विचार सुझाए। इसके अलावा तमिलनाडु और चीन के फुजियान राज्य के बीच संबंध बढ़ाने पर भी चर्चा हुई।

विदेश मंत्रालय ने कहा है कि राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने PM मोदी को चीन आने का न्यौता दिया है। PM नरेंद्र मोदी अगले साल चीन के दौरे पर जा सकते हैं।

श्री गोखले ने बताया कि 90 मिनट की बातचीत के बाद दोनों नेताओं के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता हुई। उसके बाद PM मोदी ने लंच की मेजबानी की। इस समिट के दौरान दोनों नेताओं के बीच तकरीबन 6 घंटे तक वन टू वन बैठक हुई।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.