विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

J&K में 92% हिस्से में कोई प्रतिबंध नहीं और कुलभूषण जाधव पर भारत दोबारा ICJ जाएगा : विदेश मंत्रालय

नई दिल्ली। कुलभूषण जाधव को दोबारा काउंसलर एक्सेस देने से मना करने के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय ने प्रेस कांफ्रेस की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि हम कोशिश करते रहेंगे कि अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (ICJ) के निर्णय का पूरी तरह से पालन हो। सभी मुद्दों के हल होने की उम्मीद है। करतारपुर साहिब पर कई मुद्दों पर असहमति है। पाकिस्तान ने दोबारा काउसलर एक्सेस नहीं दिया है। पाकिस्तान के इस फैसले पर भारत ने कहा है कि भारत डिप्लोमैटिक चैनलों के जरिए पाकिस्तान के संपर्क में बना रहना चाहेगा। जाधव पर भारत दोबारा आईसीजे जाएगा। विदेश मंत्रालय ने कहा कि 2 सितंबर को पाकिस्तान ने कॉन्सुलर एक्सेस दिया था, जिसके बाद इस्लामाबाद में भारत के डिप्टी-हाई कमिश्नर ने जाधव से करीब एक घंटे की मुलाकात की थी। अब पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने दूसरा कॉन्सुलर एक्सेस नहीं देने की बात कही है।

ज्ञात हो कि पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव को दूसरी बार राजनयिक पहुंच देने से इनकार कर दिया है। जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ. मोहम्मद फैसल ने कहा कि कुलभूषण जाधव के लिए दूसरा कांउसलर एक्सेस नहीं दिया जाएगा। इससे पहले आईसीजे के आदेश के बाद कुछ दिन पहले पाकिस्तान ने पहला कांउसलर एक्सेस दिया था। जिसके बाद पाकिस्तान में भारतीय उप- उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया ने उनसे मुलाकात की थी और करीब डेढ़ घंटे तक उनसे बातचीत की। कुलभूषण जाधव को साल 2016 में पाकिस्तान में गिरफ्तार किया गया था। पाकिस्तान में उनपर आतंकवाद और जासूसी के आरोप लगाए गए। इसके बाद 2017 में उन्हें मौत की सजा भी सुना दी गई।

जम्मू-कश्मीर की मौजूदा स्थिति को लेकर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा है कि राज्य के 92% हिस्से में अब कोई प्रतिबंध नहीं लागू है। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में दवाओं की कोई कमी नहीं है। बैंकिंग सुविधाएं सामान्य रूप से चल रही हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.