किसानों की सम्पन्नता से ही बाजारों में आती है रौनक: मुख्यमंत्री श्री बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि जहां किसान आर्थिक रूप से सशक्त और सम्पन्न होंगे वहां बाजारों में भी रौनक देखने को मिलती है। मुख्यमंत्री आज शाम यहां राजधानी रायपुर के रजबंधा मैदान स्थित दैनिक नवभारत समाचार पत्र के कार्यालय में पहुंचकर वहां के सम्पादकीय एवं समाचार प्रभाग के प्रतिनिधियों से मिले और समसायिक विषयों पर चर्चा की।

मुख्यमंत्री ने चर्चा के दौरान कहा कि छत्तीसगढ़ में किसानों का धान दो हजार पांच सौ रूपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदा गया। किसानों का कर्ज माफ किया और भी सहूलियते किसानों को मिली इसके कारण छत्तीसगढ़ में देशव्यापी मंदी का असर देखने को नहीं मिला। राज्य के ऑटोमोबाईल, सराफा तथा रीयल स्टेट जैसे व्यवसायों में लोगों ने अपना पैसा खर्च किया हैं। इससे बाजारों में रौनक देखने को मिल रही है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य सरकार ने आदिवासी भाईयों, तेन्दूपत्ता संग्राहकों से चार हजार रूपए की दर से प्रति मानक बोरा तेन्दूपत्ता खरीदी की व्यवस्था की, इससे वनवासियों-आदिवासी भाई-बहनों में समृद्धि, खुशहाली देखने को मिली। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक और शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना शुरू करने से गरीबों को सुविधापूर्ण तरीके से चिकित्सा सुविधा मिल रही है। इन दोनों ही योजनाओं के कारण सुदूर अंचलों के साथ-साथ शहरी क्षेत्र के सरकारी अस्पतालों की ओ.पी.डी. में अधिक वृद्धि परिलक्षित हो पायी है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.