मुख्यमंत्री श्री बघेल के निर्देश पर प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा के लिए बनेगा कारगर इंटीग्रेटेड प्लान, डायल 112 को बनाया जाएगा प्रभावी और कारगर

रायपुर। प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा के लिए कारगर इंटीग्रेटेड प्लान तैयार किया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मुख्य सचिव को महिलाओं की सुरक्षा के लिए दो सप्ताह के भीतर इंटीग्रेटेड प्लान तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि किसी भी समाज की प्रगति एवं विकास महिलाओं की भागीदारी के बिना संभव नही है। छत्तीसगढ़ राज्य के विकास में भी महिलाओं की महती भागीदारी है। समाज में महिलाओं को सुरक्षित एवं सकारात्मक माहौल उपलब्ध कराना सरकार का अहम दायित्व है, जिसके लिए छत्तीसगढ़ राज्य सरकार भी कृत संकल्पित है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हाल के दिनों में महिलाओं के साथ लगातार घटित घटनाओं के कारण सरकार की चिंता उनकी सुरक्षा के लिए प्रभावी कदम उठाने की है। पुलिस प्रशासन तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के स्तर पर महिलाओं के कल्याण एवं सुरक्षा के संबंध में अलग-अलग योजनाएं संचालित हो रही है। जिसे समन्वित रूप से एक साथ संचालित करने की आवश्यकता है।

श्री बघेल ने कहा है कि गृह विभाग और महिला एवं बाल विकास विभाग महिलाओं की सुरक्षा के संबंध में दो सप्ताह के भीतर इंटीग्रेटेड प्लान तैयार करेंगे। मुख्यमंत्री ने डायल 112 की व्यवस्था को व्यवहारिक एवं प्रभावी बनाने के निर्देश दिए है ताकि डायल 112 से सहायता मांगने की स्थिति में पुलिस न केवल प्रभावित या पीड़ित तक तत्काल पहुंचे बल्कि आवश्यकता पड़ने पर उसे पुलिस वाहन में उसके गंतव्य तक सुरक्षित पहुंचना भी सुनिश्चित किया जा सके।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि महिलाओं की सहायता एवं कल्याण के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित योजनाओं को पुलिस के साथ एकीकृत ढंग से संचालित करने की योजनाए बनायी जाए। महिलाओं को सहायता उपलब्ध कराने में आधुनिक टेक्नालॉजी का बेहतर इस्तेमाल सुनिश्चित करते हुए मोबाईल आधारित मल्टीपल एप की व्यवस्था भी शीघ्र सुनिश्चित की जाए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.