विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

छत्तीसगढ़ के लोगों के लिए संजीवनी का काम कर रही है मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना

रायपुर। छत्तीसगढ़ के नागरिकों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने और दुर्लभ बीमारियों के इलाज में होने वाले खर्च को बचाने के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की पहल पर 1 जनवरी 2020 से मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना की शुरूआत की गई। इस योजना के अंतर्गत चिन्हित दुर्लभ बीमारियों के लिए राज्य के पात्र परिवारों को अधिकतम 20 लाख रूपए तक के उपचार की सुविधा प्रदान की जा रही है। छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है जो अपने नागरिकों को उपचार के लिए इतनी बड़ी राशि उपलब्ध करा रहा है। इस योजना के पीछे मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की स्वस्थ एवं बेहतर छत्तीसगढ़ के निर्माण की भावना छिपी हुयी है।

मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना का लाभ छत्तीसगढ़ के प्राथमिकता एवं अंत्योदय राशन कार्डधारी परिवार ले सकते हैं। वैसे तो इस योजना का लाभ लेने के लिए शासन की तरफ से नियम तय किए गए हैं, लेकिन यदि कोई पीड़ित इस श्रेणी में नहीं आता है तो मुख्यमंत्री को ऐसे मरीज के लिए विशेष परिस्थितियों में नियमों को शिथिल करने का अधिकार है। ऐसे प्रकरण मुख्यमंत्री सचिवालय के माध्यम से भेजे जाते हैं और प्रकरण पर स्वीकृति मिलने के बाद मरीज को आर्थिक सहायता उपलब्ध करायी जा रही है।

मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना के अंतर्गत 1 जनवरी 2020 से लेकर 27 जून 2022 तक 2429 प्रकरणों में लगभग 43 करोड़ 30 लाख रूपए की स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है। इनमें किडनी ट्रांसप्लांट के 56 प्रकरण, लीवर ट्रांसप्लांट के 13 प्रकरण एवं बोनमेरो ट्रांसप्लांट के 63 प्रकरणो में स्वीकृति दी जा चुकी है। इस योजना से लाभांवित हितग्राहियों का कहना है कि मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना उनके लिए संजीवनी का काम कर रही है।

बलौदाबाजार भाटापारा के रहने वाले रतन लाल यादव ने अपने ट्विटर हैंडल से अपने चार माह के बच्चे के दिल की बीमारी के बारे में बताते हुए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को ट्विट किया। इस पर तत्काल सुनवाई करते हुए कुछ घंटे के भीतर ही रतन लाल यादव को उनके चार माह के बच्चे के दिल की बीमार के लिए राशि स्वीकृत की गई। रतन लाल के चार माह के बच्चे के दिल के इलाज के लिए योजना के अंतर्गत 04 लाख रूपए की राशि स्वीकृत की गयी है। इस राशि से रतन लाल ने हैदराबाद में अपने बच्चे की सफल सर्जरी करायी है और डाक्टरों की निगरानी में उसका इलाज जारी है।

जांजगीर चांपा के रहने वाले खेमलाल साहू के तीन माह के बच्चे अमनदीप साहू को दिल की बीमारी थी, उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना के लिए आवेदन दिया। बच्चे की बीमारी की गंभीरता को देखते हुए तुरंत ही 03 लाख 07 हजार रूपए की स्वीकृति प्रदान की गयी। तीन माह के अमनदीप का सफल आपरेशन हुआ और डाक्टरों की निगरानी में उसका इलाज जारी है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.