विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

विपक्ष देश में नया पाकिस्तान बनाने की साजिश रच रहा है : विजयवर्गीय

इंदौर। संशोधित नागरिकता कानून (CAA ) को लेकर विपक्षी दलों के पुरजोर विरोध पर पलटवार करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने रविवार को आरोप लगाया कि विपक्ष द्वारा देश में नया पाकिस्तान बनाने की साजिश रची जा रही है। CAA के समर्थन में यहां भाजपा के आयोजित आभार सम्मेलन में विजयवर्गीय ने कहा, विपक्ष हमारे देश के अंदर एक नया पाकिस्तान बनाने की साजिश रच रहा है। इस साजिश को नाकाम करने के लिये पूरे देश को कमर कसनी होगी। उन्होंने भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे. पी. नड्डा की मौजूदगी में कहा, हमारे मुस्लिम भाइयों को भ्रमित करने के लिये विपक्षी दल कह रहे हैं कि (सीएए से) उनकी भी नागरिकता समाप्त हो जायेगी। हम सच भी इतने आत्मविश्वास से नहीं बोल पा रहे हैं, जितने आत्मविश्वास से हमारे विरोधी लोग जनता के बीच झूठ परोस रहे हैं।

श्री विजयवर्गीय ने CAA के लिये नरेंद्र मोदी सरकार का आभार जताते हुए कहा, आप मुझे CAA में लिखा केवल एक ऐसा शब्द बता दीजिये जो इस कानून के अंतर्गत भारत के किसी भी वैध नागरिक को कोई क्षति पहुंचाता हो या उसकी नागरिकता पर कोई खतरा पैदा करता हो। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, अभी देश के केवल 10 से 20 प्रतिशत लोग सीएए का विरोध कर रहे हैं। कांग्रेस के नेताओं को इस बारे में विचार कर लेना चाहिये कि जिस दिन बाकी 80 प्रतिशत लोगों ने तय कर लिया कि यह कानून सही है और वे इसके समर्थन में सड़कों पर उतरेंगे, तब कांग्रेस नेताओं का क्या अंजाम होगा? विजयवर्गीय, भाजपा संगठन में पश्चिम बंगाल के प्रभारी महासचिव हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि इस सूबे की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी समेत भाजपा के कई विपक्षी नेता सीएए के विरोध की आड़ में अराजकता फैला रहे हैं।भाजपा महासचिव ने दावा किया, पश्चिमी बंगाल में 8,000 ऐसे गांव हैं जहां एक भी हिंदू नहीं है। अगर आप वहां चले जायें, तो आपको लगेगा कि यह जगह पाकिस्तान ही है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.