विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

खुद को विष्णु भगवान का 10वां अवतार बताने वाले विजय के घर IT रेड में सामने आई 600 करोड़ की संपत्ति

न्यूज़ डेस्क। धर्म के नाम पर लोगों को बेवकूफ बनाने वाले विजय कुमार आयकर विभाग के छापों के बाद सुर्खियों में हैं। खुद को ‘कल्क‍ि भगवान’ बताने वाले विजय कुमार नायडू के आश्रमों पर आयकर विभाग के छापों में करोड़ों की देसी-व‍िदेशी मुद्रा और सोना म‍िला है।

Income Tax के छापे में उनके पास से प‍िछले सात द‍िनों से आध्यात्म‍िक गुरुके देश भर में 40 ठ‍िकानों पर रेड चली ज‍िसमें करोड़ों का कैश, चंदे की रसीदें और सोना म‍िला। छापे के दौरान 409 करोड़ रुपये की चंदे की रसीदें, बेनामी बैंक अकाउंट में 115 करोड़ रुपये और 90 क‍िलोग्राम सोना म‍िला है।

ज्ञात हो कि 70 साल का विजय कुमार खुद को विष्णु भगवान का 10वां अवतार बताता है। खबरों के अनुसार आयकर के छापे के बाद ‘कल्कि भगवान’ गायब है। 1980 में विजय कुमार ने एलआईसी में क्लर्क की नौकरी छोड़कर जीवाश्रम संस्था की स्थापना की और वेलनेस गुरु के तौर पर मशहूर हुए। आरोप है कि कथित कल्कि बाबा ने अपने ट्रस्टों के जरिये दर्शन और आध्यात्मिक ट्रेनिंग देने के बहाने विदेशियों से पैसा बनाया। आयकर विभाग की छापेमारी में बड़े पैमाने में विदेशी करेंसी भी बरामद की गई है। बाबा पर रसीदों में हेरफेर जरिए कालेधन को सफेद करने का भी आरोप लगा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.