विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

विरोधी ‘कान खोलकर’ सुन लो अगर हिम्मत है तो अपने चुनावी घोषणापत्र में लिखो कि हम आर्टिकल 370 को वापस लाएंगे : प्रधानमंत्री मोदी

नागपुर। महाराष्ट्र के जलगांव में PM नरेंद्र मोदी ने जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान PM मोदी ने कहा कि जनसभाएं तो लोकसभा चुनाव के दौरान भी बहुत हुई हैं, लेकिन जलगांव की जो ये जनसभा है वो अद्भुत है। 4 महीने पहले आपने एक समर्थ और सशक्त नए भारत के निर्माण के लिए वोट दिया था। आपने एक ऐसे भारत के लिए जनादेश दिया था, जो विश्व में अपने स्वाभाविक स्थान को हासिल करे। इस दौरान PM ने विरोधियों पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि आप बीते कुछ महीनों में कांग्रेस और NCP के नेताओं के बयान देख लीजिए। जम्मू कश्मीर और लद्दाख को लेकर जो देश सोचता है, उससे एकदम उल्टा इनकी सोच है। इन दलों की भूमिका भारत की कम बल्कि पडोसी देश जो बोलता हैं, उनके साथ इनका तालमेल नजर आता है। PM मोदी ने कश्मीर से धारा 370 हटाने के फैसले पर भी अपना पक्ष रखा. PM ने कहा, ‘5 अगस्त को आपकी भावना के अनुरूप भाजपा-एनडीए सरकार ने एक अभूतपूर्व फैसला किया। PM मोदी ने अपने भाषण में यह भी कहा कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख सिर्फ जमीन का एक टुकड़ा नहीं है, वो मां भारती का शीष है, वहां का कण-कण भारत की शक्ति को मजबूत करता है।

PM नरेंद्र मोदी ने कश्मीर से 370 हटाने का विरोध कर रहे दलों को खुली चुनौती देते हुए कहा कि अगर विरोध करने वालों में हिम्मत है तो वे अपना रूख स्पष्ट करें। PM मोदी ने ऐसे दलों से अपने चुनावी घोषणा पत्रों में धारा 370 वापस लाने का ऐलान करने की मांग की। श्री मोदी ने कहा, ‘कान खोलकर हमारे विरोधी सुन लें, अगर आपमें हिम्मत है तो इस चुनाव में और आने वाले चुनावों में भी घोषणा-पत्र में ऐलान करें कि आर्टिकल 370 वापस लाएंगे। 5 अगस्त के निर्णय को हम बदल देंगे। PM मोदी की आज की यह पहली रैली है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.