विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान की UN से शिकायत में राहुल गांधी के बयान का इस्तेमाल, डैमेज कंट्रोल में जुटी कांग्रेस, ट्वीट कर कहा ये……..

नई दिल्ली। पाकिस्तान सरकार द्वारा कश्मीर मुद्दे पर UN को कथित तौर पर की गई शिकायत में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के एक बयान को इस्तेमाल करने से जुड़ी खबरें सामने आने के बाद पार्टी बैकफुट पर नजर आ रही है। पार्टी राहुल गांधी के बयान के बचाव में उतर गई है, वहीं राहुल ने भी अपने बयान को लेकर अप्रत्यक्ष तौर पर सफाई दी है।

सुरजेवाला ने एक बयान में कहा, ‘‘कांग्रेस ने उन खबरों का संज्ञान लिया गया है जिनमें यह कहा गया है कि पाकिस्तान की ओर से जम्मू-कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र में दायर कथित याचिका में राहुल गांधी का नाम शरारतपूर्ण ढंग से लिया गया है ताकि पाकिस्तान के झूठ के पुलिंदे और गलत सूचना को सही ठहराया जा सके।”” उन्होंने कहा कि दुनिया में किसी को भी इसमें संदेह नहीं होना चाहिए कि जम्मू, कश्मीर और लद्दाख भारत का अभिन्न हिस्सा थे, हैं और सदा रहेंगे। पाकिस्तान की ओर से कितनी भी भ्रांति फैला दी जाए, लेकिन यह अकाट्य सच बदलने वाला नहीं है।

उन्होंने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा, ”पाकिस्तान को दुनिया को POK -गिलगित- बाल्टिस्तान में मानवाधिकार के घोर उल्लंघन के बारे में जवाब देना चाहिए। पाकिस्तान को सात करोड़ मुहाजिरों के उत्पीड़न और पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा 25 हजार लोगों की हत्या किए जाने पर जवाब देना चाहिए।” सुरजेवाला ने कहा कि पाकिस्तान को बलूचिस्तान में मानवाधिकार का उल्लंघन करने, हजारों लोगों के गायब होने और सामूहिक कब्रें मिलने के बारे में भी जवाब देना होगा।

उन्होंने कहा कि दुनिया को एक बार फिर से याद दिलाने की जरूरत है कि लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मुहम्मद, हिजबुल मुजाहिदीन, अल कायदा और तालिबान जैसे आतंकी संगठनों को पाकिस्तान में फलने-फूलने का मौका मिला है। कांग्रेस नेता ने कहा कि कश्मीर का राग अलापने की बजाय पाकिस्तान को इन मुद्दों पर पूरी दुनिया को जवाब देना चाहिए।

इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को दो टूक कहा कि वह कई मुद्दों पर नरेंद्र मोदी सरकार से असहमत हैं, लेकिन यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है और पाकिस्तान या कोई दूसरा देश इसमें दखल नहीं दे सकता। गांधी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि यह पड़ोसी देश जम्मू-कश्मीर में हिंसा भड़का रहा है और आतंकवाद समर्थक के तौर पर दुनिया भर में जाना जाता है।

गांधी ने ट्वीट किया, “मैं कई मुद्दों पर सरकार से असहमत हूं। लेकिन यह बिल्कुल स्पष्ट करना चाहता हूं कि कश्मीर भारत का आंतरिक मुद्दा है और पाकिस्तान या किसी अन्य देश के लिए इसमें दखल देने की कोई गुंजाइश नहीं है।” उन्होंने कहा, ””जम्मू-कश्मीर में हिंसा है और यह पाकिस्तान द्वारा भड़काने और समर्थन देने की वजह से है। पाकिस्तान आतंकवाद के समर्थक के रूप में पूरी दुनिया में जाना जाता है।”

गांधी ने यह टिप्पणी ऐसे समय की है जब वह पिछले कई दिनों से जम्मू-कश्मीर के मामले को लेकर सरकार पर हमले कर रहे थे। उनका आरोप रहा है कि आर्टिकल 370 के कई प्रावधान हटाने और राज्य के दो केंद्रशासित प्रदेश में बांटने का कदम असंवैधानिक तरीके से उठाया गया है। पिछले दिनों गांधी विपक्ष के कई नेताओं के साथ कश्मीर जा रहे थे, हालांकि उन्हें श्रीनगर हवाई अड्डे पर ही रोक दिया गया था और दिल्ली वापस भेज दिया गया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.