विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

राज्योत्सव पौनी-पसारी बाजार में उमड़ा जन सैलाब, सूपा-चरहिया, कुम्हारी, आचार-पापड़ और पारंपरिक गहनों की हो रही खूब बिक्री

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्योत्सव के उपलक्ष्य पर रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में नगरीय प्रशासन विभाग के स्टॉल में ‘पौनी-पसारी‘ बाजार में खरीददारों का जन सैलाब उमड़ पड़ा। वहीं बाजार लोगों के आकर्षक का केन्द्र बना रहा। स्टॉल में राज्य सरकार की पौनी-पसारी योजना के तहत महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा लगाए गए सूपा, चरहिया, टूकना, कुम्हारी समान, मिट्टी के बर्तन, सो पिस, लोहे के कलाकृति, ढोकरा कला, बांस कला, पारंपरिक गहनों की खूब बिक्री हो रही है। साथ ही लोगों को खूब पसंद भी आ रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पारंपरिक व्यवसाय को बढ़ावा देने और ऐसे व्यवसाय से जुडे़ कारीगरों और उनके परिवारों को स्थानीय स्तर पर रोजगार मुहैया कराने के लिए नगरीय प्रशासन विभाग के अंतर्गत पौनी-पसारी योजना शुरू की गई है। साइंस कॉलेज मैदान में आयोजित राज्योत्सव में विभिन्न विभागों का स्टॉल लगाया गया है। नगरीय प्रशासन उपलब्धियों पर आधारित स्टॉल लगायी गई है। इनमें पौनी-पसारी योजना के तहत पारंपरिक व्यवसाय जैसे मिट्टी के बर्तन आदि, चमड़े की व्यवसाय, लोहे की पारंपरिक कलाकृति, डालड़ा की गहनें आदि की बिक्री स्टॉल में हो रही है। इसके अलावा राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन द्वारा महिला स्व सहायता समूहों के उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराने और प्रचार-प्रसार के लिए अनके स्टॉल लगाए गए हैं। इनमें नगर निगम दुर्ग, बैकुण्ठपुर (कोरिया), रायपुर सहित नगर पालिका परिषद, डोंगरगढ़, खैरागढ़, चाम्पा के महिला समूहों द्वारा फिनाईल, बर्तन धोने का लिक्विड, सेवई, आचार, पापड, जूट की बैग, बुटिक कपड़े की स्टॉल लगायी गई। जिसे लोगों द्वारा खरीदी की जा रही है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.