विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

उच्च शिक्षा में आज गुणवत्ता सुनिश्चित करना सबसे बड़ी आवश्यकता: भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज यहां सायाजी होटल में आयोजित कार्यक्रम में उत्कृष्ट शैक्षणिक संस्थाओं, अनुसंधानकर्ताओं, नवाचार करने वालों और प्राध्यापकों को ऑरोपाथ ग्लोबल अवार्ड 2019 से सम्मानित किया। यह अवार्ड ऑरोपाथ सर्विस ट्रस्ट और श्री अरविंदो सोसाइटी द्वारा शैक्षणिक संस्थाओं में उच्च शिक्षा में गुणवत्ता के सुधार, विद्यार्थियों की रोजगार दक्षता बढ़ाकर उन्हें भावी जीवन के लिए तैयार करने और अध्ययन-अध्यापन में नवाचार के माध्यम से उत्कृष्टता हासिल करने के प्रयासों को बढ़ावा देने के लिए दिया जाता है। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में 15 श्रेणियों में ग्लोबल अवार्ड वितरित किए। उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल विशेष अतिथि के रूप में कार्यक्रम में उपस्थित थे ।

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज सबसे बड़ी जरूरत उच्च शिक्षा में गुणवत्ता सुनिश्चित करने की और उच्च शिक्षा को वास्तविक जरूरतों से जोड़ने की है । शिक्षा के माध्यम से युवाओं के दृष्टिकोण को व्यापक करने की भी आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने महर्षि अरविंद योगी का स्मरण करते हुए कहा कि वे एक क्रांतिकारी थे, उनके जीवन की एक घटना ने उन्हें आध्यात्मिकता की ओर मोड़ दिया। उन्होंने लंबे समय तक आध्यात्मिक साधना की । महर्षि अरविंदो ने अध्यात्मिक से मानसिक उच्च स्तर को प्राप्त किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि मानव सेवा हमारा लक्ष्य होना चाहिए। हमें अपनी शक्तियों को पहचान कर समाज, राज्य और देश के नवनिर्माण में योगदान देना चाहिए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के सलाहकार राजेश तिवारी, ऑरोपाथ के समरेंद्र घोष, डॉ. इन्द्राणी, श्रीमती स्मृति और सुश्री शुभांगी और उपस्थित थे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.