विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आश्रम के विद्यार्थियों के साथ जमीन पर बैठकर किया भोजन

रायपुर। देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी को 75वें जन्म दिवस के अवसर पर धमतरी जिले के नगरी विकासखण्ड के ग्राम दुगली में आयोजित ग्राम सुराज एवं वनाधिकार मड़ई तथा सद्भावना दिवस कार्यक्रम में आज प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक अरब 34 करोड 52 लाख रूपए के कुल 121 निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। इसके पहले, मुख्यमंत्री श्री बघेल ने आदिम जाति विकास विभाग द्वारा संचालित शासकीय बालक आश्रम का अवलोकन किया।

मुख्यमंत्री के आश्रम पहुंचने पर विद्यार्थियों ने गुलाब फूल भेंट कर उनका स्वागत किया। इस दौरान बताया गया कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के द्वारा 14 जुलाई 1985 को दुगली प्रवास के दौरान इसका अवलोकन किया गया। यह आश्रम भी उसी साल से संचालित है। यह जिले का सर्वप्रथम आवासीय आश्रम है। मुख्यमंत्री एवं अन्य वरिष्ठ मंत्रियों व अतिथियों ने आश्रम के विद्यार्थियों के साथ जमीन पर बैठकर भोजन किया। बच्चों ने बताया कि आश्रम में प्रतिदिन मीनू के अनुसार स्वादिष्ट भोजन परोसा जाता है। उन्होंने बच्चों से उनके लक्ष्य के बारे में भी पूछा, तो किसी ने शिक्षक, किसी ने डॉक्टर और किसी ने इंजीनियर बनने की इच्छा प्रकट की।

मुख्यमंत्री के साथ राज्यसभा सांसद पी.एल. पुनिया, प्रदेश के ग्रामीण विकास एवं स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव, परिवहन, आवास तथा वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, वाणिज्यिक कर, उद्योग तथा जिले के प्रभारी मंत्री श्री कवासी लखमा, राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल, कोंडागांव विधायक मोहन मरकाम सहित सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव, पूर्व मंत्री माधव सिंह ध्रुव, पूर्व विधायक द्वय लेखराम साहू, हर्षद मेहता व कलेक्टर रजत बंसल ने भी जमीन पर बैठकर मध्यान्ह भोजन किया।

इसके पहले मुख्यमंत्री श्री बघेल ने दुगली स्थित आदिम जाति बालक छात्रावास में विशेष पिछड़ी जनजाति कमार विद्यार्थियों को दिए जा रहे तीरंदाजी (आर्चरी) के प्रशिक्षण का अवलोकन किया। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री बघेल ने प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे कमार विद्यार्थियों को भरपूर मेहनत करने के लिए प्रेरित किया और शुभकामनाएं दीं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.