विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

सूबे की छवि खराब कर रही हैं सपा, बसपा और कांग्रेस : यूपी सरकार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की BJP सरकार ने विपक्ष पर कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर राज्य की छवि खराब करने का आरोप लगाते हुए दावा किया कि प्रदेश में संगठित अपराधों पर पूरी तरह रोक लग चुकी है। राज्य सरकार के प्रवक्ता और प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने यहां कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस कानून-व्यवस्था की बदहाल तस्वीर पेश कर प्रदेश की छवि खराब कर रही हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में संगठित अपराध पर पूरी तरह अंकुश लग चुका है। कुछ स्थानों पर आपसी रंजिश में हत्या की घटनाएं हुई हैं। सरकार इस पर गंभीरता से कार्यवाही भी कर रही है।

श्री शर्मा ने उत्तर प्रदेश को हत्या प्रदेश करार देने वाले सपा अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा, अब अपराधियों को संरक्षण नहीं मिल रहा है। पिछली सरकार में अपराधी मुख्यमंत्री की सीट के पीछे बैठते थे। इनके मुंह से ऐसी बातें शोभा नहीं देती। मालूम हो कि अखिलेश ने सोमवार को अपने ट्वीट में कहा सहारनपुर के पत्रकार भाइयों की हत्या के बाद प्रयागराज में 12 घंटे में छह लोगों की हत्या। बिगड़ती कानून-व्यवस्था से उत्तर प्रदेश अब हत्या प्रदेश बनता जा रहा है। क्या भाजपा उत्तर प्रदेश की यही पहचान बनाना चाहती है? जब जनता को जान का भरोसा न हो तो फिर कैसा विकास और किस पर विश्वास?

इसके अलावा BSP प्रमुख मायावती ने भी आज कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर प्रदेश की भाजपा सरकार को घेरते हुए ट्वीट किया यूपी की भाजपा सरकार के शासन में कानून का नहीं, बल्कि गुण्डों, बदमाशों और माफियाओं का जंगलराज चल रहा है, जिस कारण अब पूरे प्रदेश में हर प्रकार के अपराध चरम पर हैं और हत्याओं की तो बाढ़ सी आ गयी लगती है। हर कोई असुरक्षित महसूस कर रहा है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी कल ट्वीट कर कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर प्रदेश सरकार की आलोचना की थी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.