विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

बजरंग दल ने नवरात्र में आयोजित गरबा महोत्सव आयोजकों से ‘गैर हिंदुओं’ का प्रवेश रोकने को कहा

अहमदाबाद। बजरंग दल ने गुजरात में गरबा आयोजकों से आयोजनस्थलों पर ‘‘गैर हिंदुओं’’ का प्रवेश रोकने को कहा है। बजरंग दल ने दावा किया है कि नौ दिवसीय नवरात्र महोत्सव हिंदू महिलाओं को बहलाने फुसलाने का एक मंच बन गया है। दक्षिणपंथी समूह ने गरबा आयोजन स्थलों के बाहर लगातार गश्त करने के लिए टीमें भी बनायी हैं और लोगों को ‘लव जेहाद’ के बारे में सतर्क करने के लिए पोस्टर भी लगाये हैं। बजरंग दल के अहमदाबाद क्षेत्र समन्वयक ज्वलित मेहता ने सोमवार को कहा कि अहमदाबाद में ऐसे पोस्टर सभी प्रमुख गरबा आयोजन स्थलों के बाहर लगाये गए हैं। शहर में ऐसे पोस्टर विशेष तौर पर मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में स्थित गरबा आयोजन स्थलों के बाहर लगाये गए हैं। उन्होंने दावा किया, ‘‘इन पोस्टरों के जरिये हम लोगों को एक षड्यंत्र के बारे में सतर्क कर रहे हैं जिसके तहत नवरात्र के दौरान हिंदू लड़कियों और महिलाओं को गैर हिंदुओं द्वारा निशाना बनाया जाता है।

प्रत्येक वर्ष तीन लाख से अधिक हिंदू लड़कियां या महिलाएं लव जेहाद में फंसती हैं।’’ उन्होंने कहा कि संगठन ने अभिभावकों को भी सतर्क रहने और अपनी पुत्रियों को बचाने का आग्रह किया है। मेहता ने कहा, ‘‘हमने गरबा आयोजकों से गरबा आयोजन स्थलों में गैर हिंदुओं का प्रवेश रोकने के लिए पहले ही कह दिया है।’’ संगठन ने शहर में प्रमुख स्थलों पर निगरानी के लिए टीमें बनायी हैं। मेहता ने कहा, ‘‘यदि हम किसी ‘विधर्मी’ को किसी लड़की या महिला के साथ पकड़ेंगे तो पहले उस लड़की या महिला के अभिभावकों को सूचित करेंगे और उसके बाद उस गैर हिंदू की जानकारी निकालेंगे और पता लगाएंगे क्या उसका कोई गुप्त उद्देश्य है।’’

संगठन ने इसके साथ ही स्थानीय पुलिस और विभिन्न जिलों के प्रशासनों से भी हिंदू धर्म की ‘‘शुचिता’’ बनाये रखने और लड़कियों को ‘लव जेहाद’ से बचाने का आग्रह किया है। बजरंग दल के उत्तर गुजरात समन्वयक एम के पटेल ने कहा, ‘‘नवरात्र हिंदुओं का एक महत्वपूर्ण त्योहार है। यह लव जेहाद का मंच नहीं बनना चाहिए। गैर हिंदू जिनका इस त्योहार से कोई लेना देना नहीं, वे इसका इस्तेमाल हमारी लड़कियों या महिलाओं को बहलाने फुसलाने के लिए करते हैं।’’ उन्होंने कहा कि संगठन के नेताओं ने हिंदू लड़कियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न जिलों में पुलिस और प्राधिकारियों को ज्ञापन सौंपे।

इसी तरह से विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के पूर्व प्रमुख प्रवीण तोगड़िया द्वारा स्थापित अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद (एएचपी) भी गुजरात में गरबा आयोजन स्थलों में गैर हिंदुओं का प्रवेश रोकने के लिए काम कर रहा है।एएचपी के महासचिव रंणछोड़ भारवाड ने कहा, ‘‘हमने गरबा आयोजकों से यह सुनिश्चित करने को कहा है कि हिंदुओं के इस त्योहार की शुचिता के साथ कोई भी खिलवाड़ ना करे। यदि कोई गैर हिंदू गरबा खेलना चाहता है तो उसे पहले हिंदू धर्म अपनाना होगा, गौमूत्र पीना होगा और उसके बाद ही वह गरबा कर सकता है।’’

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.