विश्व
पुष्टि - 326,836,658
मृत्यु - 5,553,780
ठीक- 266,449,527
भारत
पुष्टि - 37,122,164
मृत्यु - 486,094
ठीक- 35,085,721
महाराष्ट्र
पुष्टि - 71,24,278
मृत्यु - 1,41,756
ठीक- 67,17,125
केरल
पुष्टि - 53,42,953
मृत्यु - 50,568
ठीक- 52,14,862
कर्नाटक
पुष्टि - 31,53,247
मृत्यु - 38,411
ठीक- 29,73,470
तमिलनाडु
पुष्टि - 28,91,959
मृत्यु - 36,956
ठीक- 27,36,986

NRC पर अफवाह फ़ैलाने को लेकर, दिल्ली BJP ने केजरीवाल और विधायक भारद्वाज के खिलाफ दर्ज कराई FIR

नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश बीजेपी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के विधायक सौरभ भारद्वाज के खिलाफ बृहस्पतिवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराकर आरोप लगाया कि वे यह ‘अफवाह’ फैला रहे हैं कि अगर शहर में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) लागू होती है तो उत्तर प्रदेश, बिहार और ओडिशा के लोगों को यहां से जाना होगा। यह शिकायत दिल्ली भाजपा के मीडिया संबंध के प्रमुख नीलकंठ बक्शी और पार्टी में हाल में शामिल हुए कपिल मिश्रा ने दर्ज कराई है। इसमें यह भी दावा किया गया है कि केजरीवाल और भारद्वाज के बयान शहर में कानून एवं व्यवस्था की स्थिति के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं।

गौरतलब है कि एक दिन पहले ही केजरीवाल ने प्रदेश BJP अध्यक्ष पर यह कह कर तंज कसा था कि अगर दिल्ली में NRC लागू की गई तो मनोज तिवारी को सबसे पहले शहर से जाना होगा। तिवारी शहर में रहने वाले अवैध प्रवासियों की पहचान और उन्हें निकालने के लिए राष्ट्रीय राजधानी में NRC की मांग कर रहे हैं। नई दिल्ली के पुलिस उपायुक्त को दी गई शिकायत में कहा गया है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और विधायक सौरभ भारद्वाज मीडिया के जरिए NRC के बारे में जानबूझकर अफवाह फैलाने की कोशिश कर रहे है, जो लोगों को दुविधा में डाल सकता है और शहर में कानून एवं व्यवस्था की स्थिति के लिए भी खतरा हो सकता है।

शिकायत पर प्रतिक्रिया देते हुए आम आदमी पार्टी (AAP) के मुख्य प्रवक्ताभारद्वाज ने कहा कि भाजपा के पास दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए कोई एजेंडा नहीं है। उन्होंने ‘आप’ सरकार की उपलब्धियों को रेखांकित करते हुए कहा, ‘उन्हें आप सरकार के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर का कोई निशान नजर नहीं आ रहा है जिससे वे घबराए हुए हैं। भाजपा विभाजनकारी चीजों को मुद्दा बनाने के लिए बेताब है। उन्हें बिजली, पानी की आपूर्ति, शिक्षा, मोहल्ला क्लिनिक, डेंगू रोकथाम, प्रदूषण नियंत्रण को लेकर दिल्ली की तुलना भाजपा शासित राज्यों से करनी चाहिए।’

उन्होंने कहा कि तिवारी को महाराष्ट्र में शिवसेना-भाजपा गठबंधन द्वारा उत्तर प्रदेश और बिहार के गरीब लोगों के साथ अपमानजनक बर्ताव और हिंसा पर अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। भारद्वाज ने बुधवार को तिवारी से पूछा था कि क्या उनके पास 1971 से दिल्ली में रहने का सबूत है। दिल्ली भाजपा के नेताओं ने शिकायत में आरोप लगाया, ‘केजरीवाल और भारद्वाज ने जानबूझकर कहा है कि अगर राष्ट्रीय राजधानी में एनआरसी लागू की जाती है तो उत्तर प्रदेश, बिहार और ओडिशा के लोगों को दिल्ली से जाना होगा।’

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.