चेन्नई में बोले प्रधानमंत्री मोदी, एक साथ काम करें एशियाई देशों के सर्वश्रेष्ठ दिमाग

चेन्नई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका के सात दिवसीय दौरे से भारत लौटे, हमेशा सक्रिय रहने वाले नेता के रूप में मशहूर श्री मोदी आज कुछ कार्यक्रमों में शिरकत करने के लिए चेन्नई पहुंचे। उन्होंने IIT मद्रास के 56वें दीक्षांत समारोह के साथ इसी परिसर में आयोजित सिंगापुर-भारत हैकथॉन के पुरस्कार वितरण समारोह में हिस्सा लिया। मोदी ने कहा कि मैं इसमें यकीन करता हूं कि तकनीक और व्यापार लोगों को एकजुट करने का काम करते हैं।

एशियाई देशों के सर्वश्रेष्ठ दिमाग एक साथ काम करें और इनोवेटिव समाधान खोजें खास तौर पर ग्लोबल वॉर्मिंग और क्लाइमेट चेंज को लेकर। भारत का फोकस इस वक्त इनोवेशन के जरिए आम लोगों के जीवन में बेहतर बदलाव लाने की कोशिश पर है। अटल इनोवेशन योजना, स्टार्टअप योजना जैसे कार्यक्रमों के जरिए इसे बढ़ावा दिया जा रहा है।

इससे पहले श्री मोदी का एयरपोर्ट पर जबरदस्त स्वागत हुआ। यहां उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि अमेरिका में भी तमिल भाषा की धूम है। हम लोग सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ कैंपेन चला रहे हैं, लेकिन इसका मतलब प्लास्टिक फ्री इंडिया नहीं है। प्रधानमंत्री नेे कार्यकर्ताओं से महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के लिए तैयारी करने की अपील की।

श्री मोदी ने दीक्षांत समारोह के लिए आईआईटियनों और IIT के पूर्व छात्रों से अपने भाषण के लिए विचार साझा करने को कहा था। उन्होंने रविवार को ट्वीट कर कहा कि कल मैं आईआईटी मद्रास के दीक्षांत समारोह में भाग लेने के लिए चेन्नई में रहूंगा। मैं वहां भारत के कुछ तेज-तर्रार दिमागों के साथ होने की आशा करता हूं। मैं आप सभी को खासकर के आईआईटियनों और IIT के पूर्व छात्रों से मेरे भाषण के लिए आपके विचार साझा करने का आह्वान करता हूं। इसे आप नमो एप के खुले मंच पर शेयर कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.